क्या आप जानते हैं इतिहास का वो रोचक किस्सा जब देश में चला था भगवान श्री कृष्ण पर मुकदमा

 
क्या आप जानते हैं इतिहास का वो रोचक किस्सा जब देश में चला था भगवान श्री कृष्ण पर मुकदमा

लाइफस्टाइल न्यूज़ डेस्क, भगवान विष्णु के 8वें अवतार और हिन्दू धर्म के ईश्वर भगवान श्रीकृष्ण को माना जाता है। भगवान श्रीकृष्ण को कन्हैया, श्याम, गोपाल, केशव, द्वारकेश या द्वारकाधीश, वासुदेव आदि नामों से भी जाना जाता हैं। भगवान श्रीकृष्ण को निष्काम कर्मयोगी, एक आदर्श दार्शनिक, स्थितप्रज्ञ एवं दैवी संपदाओं से सुसज्ज महान पुरुष माना जाता है। 

बात उस समय की है जब भगवान श्री कृष्ण के भक्तों की एक संस्था जिसका नाम इस्कॉन है उसका प्रभाव तेजी से यूरोप के देशों में फैल रहा था। जहां एक और यूरोप के देशों के हजारों लोग इस संस्था से जुड़ रहे थे तो कुछ लोग इस संस्था का विरोध कर रहे थे। इसी बीच वॉरसॉ पोलेंड में एक्रिस्चियन नन ने इस्कॉन पर एक केस फाइल कर दिया। उसी समय में ये मामला कोर्ट में साल 2011 में पहुंच गया था।

एक्रिस्चियन नन ने  कोर्ट में बोला कि इस्कॉन पोलैंड में अपनी गतिविधियाँ बढ़ा रही है जिसके चलते कई लोग उनके अनुयायी बन रहे है। नन ने कहा कि इस्कॉन को पोलैंड में बैन कर दिया जाये। उसने यह कारण दिया कि इस्कॉन के अनुयायी ऐसे कृष्ण के गुणगान करते हैं जिनका चरित्र खराब था, भगवान कृष्ण ने तो 16,000 औरतों से शादी की थी, जिन्हें गोपिकाएँ कहा जाता था।

उसके बाद जवाब में इस्कॉन के प्रतिवादी ने जज से विनती की और कहा कि कृपया नन से कहें वो उस शपथ को दोहराएँ, जो उन्होंने नन बनते समय ली थी। उसके बाद जज ने नन से कहा कि वो तेज आवाज़ में शपथ बोलकर बताएं। नन ने कोई जवाब नहीं दिया। अतः इस्कॉन के प्रतिवादी ने जज से अनुमति माँगी कि क्या वो नन बनने की शपथ पढ़कर सुना सकता है। जज ने कहा कि बिलकुल, आप बोलिए। इस्कॉन के प्रतिवादी ने जो शपथ पढ़कर सुनाई, उसका साफ मतलब निकलता था कि नन बनने वाली हर स्त्री जीसस क्राइस्ट की विवाहिता होती है।

उसके बाद इस्कॉन के प्रतिवादी ने कहा कि माई लार्ड ! भगवान कृष्ण के बारे में कहा जाता है कि उनकी 16,000 पत्नियाँ थीं। वहीं दूसरी तरफ दुनिया भर में 10 लाख से अधिक नन ऐसी हैं जोकि जीसस की विवाहिता हैं। अब आप निर्णय कर सकते है कि भगवान कृष्ण और जीसस क्राइस्ट में किसका चरित्र ख़राब है ? और ननों के बारे में क्या कहा जाये ? जज ने फ़ौरन ही इस्कॉन के खिलाफ लगा वह केस ख़ारिज कर दिया।

Post a Comment

From around the web