जानिए क्या है कैलाश मंदिर की गुफाओं का अनसुलझा रहस्य

 
kailasa temple ellora facts

ज्योतिष न्यूज़ डेस्क: कैलाश मंदिर हिंदुओं का पवित्र तीर्थ स्थल हैं ऐसा माना जाता हैं कि यह मंदिर दुनिया का सबसे अधिक रहस्यमई मंदिर हैं ये मंदिर देखने में जितना अद्भुत नजर आता हैं इस मंदिर को बनाने की कला उतनी ही रहस्यमई थी। इसमें जितने राज इस मंदिर के साथ जुड़े हैं उससे कहीं अधिक इस मंदिर के नीचे गुफाओं से जुड़े माने जाते हैं। इन गुफाओं को सरकारी तौर पर बंद किया गया हैं,तो आज हम आपको अपने इस लेख में कैलाश मंदिर से जुड़ी कुछ खास और महत्वपूर्ण बातें बता रहे हैं तो आइए जानते हैं। 

ऐसा माना जाता है कि कैलाश मंदिर का निर्माण आठवीं शताब्दी में करवाया गया था, लेकिन कई विशेषज्ञ इस मंदिर को उससे भी कई हजार साल पुराना मानते हैं अगर यहां की कहानी माने तो रास्त्रकुट्टा के राजा कृष्णा प्रथम ने इस मंदिर को बनवाया था। कृष्णा प्रथम को एक गंभीर बीमारी थी, तो उनकी पत्नी ने भगवान शिव से मांगा कि अगर उनके पति की बीमारी ठीक हो जाए तो वह यहां मंदिर बनवाएंगे और जब तक वह मंदिर का शिखर नहीं देख लेती वो व्रत रखेगी। उसके बाद राजा कृष्णा प्रथम ठीक हो गए और जब वह मंदिर बनवाने लगे तो उन्हें बताया गया कि ऐसा मंदिर बनने में सालों लग जाएंगे और आप इतना लंबा व्रत नहीं रख पाएंगी।

 तब वह शिव से ही प्रार्थना की शिव भी उनकी मदद करें तब उन्हें अस्त्र प्रदान हुआ जिसे भूमि अस्त्र कहते हैं उस अस्त्र की सहायता से इस चट्टान पर मंदिर ऊपर से नीचे की ओर बनाया गया। तब इस मंदिर का शिखर कुछ ही दिनों में देखा जा सका। जो काम मजदूरों द्वारा 200 सालों में होता वही काम भूमि अत्र से कुछ ही समय में हो गया यह अस्त्र मिट्टी को भाप बना देता था। उसके बाद राजा कृष्णा प्रथम ने इस अस्त्र को मंदिर के नीचे की गुफाओं में दफन कर दिया। 

Post a Comment

From around the web