हर जगह बन जाती है पैरों की बदबू आपकी शर्मिंदगी का कारण, एक बार आजमाकर देखें ये अचूक उपाय

 
हर जगह बन जाती है पैरों की बदबू आपकी शर्मिंदगी का कारण, एक बार आजमाकर देखें ये अचूक उपाय

गर्मी की शुरुआत के साथ ही लोगों को सांसों की दुर्गंध की समस्या का सामना करना पड़ता है। साथ ही कुछ लोगों को पैरों से दुर्गंध की समस्या भी होती है। पैरों की दुर्गंध न केवल शर्मिंदगी का कारण बनती है, बल्कि इससे खुजली, रैशेज, बैक्टीरिया और फंगल इंफेक्शन भी हो सकता है। अगर आप भी गर्मियों में पैरों की दुर्गंध से थक चुके हैं तो चिंता न करें क्योंकि आज हम आपको इससे निपटने के कुछ आसान और घरेलू उपाय बताएंगे।

पैरों में ज्यादा पसीना क्यों आता है?

गर्मी की शुरुआत के साथ ही लोगों को सांसों की दुर्गंध की समस्या का सामना करना पड़ता है। साथ ही कुछ लोगों को पैरों से दुर्गंध की समस्या भी होती है। पैरों की दुर्गंध न केवल शर्मिंदगी का कारण बनती है, बल्कि इससे खुजली, रैशेज, बैक्टीरिया और फंगल इंफेक्शन भी हो सकता है। अगर आप भी गर्मियों में पैरों की दुर्गंध से थक चुके हैं तो चिंता न करें क्योंकि आज हम आपको इससे निपटने के कुछ आसान और घरेलू उपाय बताएंगे।  पैरों में ज्यादा पसीना क्यों आता है? क्या आपने कभी सोचा है कि पैरों से इतना पसीना क्यों आता है? दरअसल, हमारे शरीर के किसी भी हिस्से की तुलना में पैरों में पसीने की ग्रंथियां अधिक होती हैं। जब बाहर का तापमान गर्म होता है तो पैरों से नमी छोड़ने के लिए अधिक पसीना आता है जो शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है। एक तरह से यह हमारे लिए अच्छा होता है लेकिन जब इसमें से बदबू आने लगे तो यह शर्मनाक हो सकता है।  पैरों को नमक के पानी में भिगोएं पैरों की दुर्गंध से छुटकारा पाने के लिए आप सिरके का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए नमक के पानी में सिरका और आधा कप एप्सम घोलें। इसमें पैरों को करीब 10 से 20 मिनट तक भिगोएं और फिर गुनगुने पानी से धो लें।  पैरों को सूखा रखें न केवल नहाने के बाद बल्कि घर आने के बाद भी अपने पैरों को धोएं और सुखाएं। गर्मियों में पसीने को सोखने के लिए सूती मोजे पहनें।  पाउडर का प्रयोग करें अगर आपके पैरों में बहुत पसीना आता है, तो आप फुट एंटीपर्सपिरेंट का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा पैरों को सुखाने के लिए जूतों में थोड़ा सा कॉर्न स्टार्च या टैल्कम पाउडर छिड़कें।  हाइड्रेटेड रहना खूब पानी पीना पैरों के पसीने के जोखिम को कम करने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। यह शरीर के तापमान को नियंत्रित करने में मदद करता है, जिससे पसीना कम करने में मदद मिलती है।  साफ पैर एक बाल्टी गुनगुने पानी में 1/2 कप नमक, टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदें और 1/2 कप नींबू का रस मिलाएं। इसमें पैरों को 10-15 मिनट के लिए भिगो दें और फिर मसाज करते हुए सादे पानी से धो लें। फिर इन्हें अच्छे से सुखाकर मॉइश्चराइज करें।  फुट पैक पर लगाएं 1 चम्मच ग्लिसरीन में 3 चम्मच गुलाब जल और 2 चम्मच नींबू का रस मिलाएं। 30 मिनट तक लगाने के बाद पैरों पर मसाज करें और फिर ठंडे पानी से धो लें। इस पैक को हफ्ते में दो बार लगाने से पैरों की दुर्गंध से छुटकारा मिल जाएगा।  इन बातों का रखें ध्यान गर्मियों में स्ट्रैपी लेदर सैंडल, रबर स्नीकर्स और प्लास्टिक स्लिप-ऑन से बचें। ऐसे सैंडल चुनें जो ज्यादा टाइट न हों। अपने पैरों को दिन में दो बार धोने से गंध पैदा करने वाले बैक्टीरिया का विकास रुक जाएगा। ऐसे मोजे पहनें जो सांस ले सकें और नमी को आसानी से अवशोषित कर सकें।
क्या आपने कभी सोचा है कि पैरों से इतना पसीना क्यों आता है? दरअसल, हमारे शरीर के किसी भी हिस्से की तुलना में पैरों में पसीने की ग्रंथियां अधिक होती हैं। जब बाहर का तापमान गर्म होता है तो पैरों से नमी छोड़ने के लिए अधिक पसीना आता है जो शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है। एक तरह से यह हमारे लिए अच्छा होता है लेकिन जब इसमें से बदबू आने लगे तो यह शर्मनाक हो सकता है।

पैरों को नमक के पानी में भिगोएं
पैरों की दुर्गंध से छुटकारा पाने के लिए आप सिरके का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए नमक के पानी में सिरका और आधा कप एप्सम घोलें। इसमें पैरों को करीब 10 से 20 मिनट तक भिगोएं और फिर गुनगुने पानी से धो लें।

पैरों को सूखा रखें
न केवल नहाने के बाद बल्कि घर आने के बाद भी अपने पैरों को धोएं और सुखाएं। गर्मियों में पसीने को सोखने के लिए सूती मोजे पहनें।

पाउडर का प्रयोग करें
अगर आपके पैरों में बहुत पसीना आता है, तो आप फुट एंटीपर्सपिरेंट का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा पैरों को सुखाने के लिए जूतों में थोड़ा सा कॉर्न स्टार्च या टैल्कम पाउडर छिड़कें।

हाइड्रेटेड रहना

गर्मी की शुरुआत के साथ ही लोगों को सांसों की दुर्गंध की समस्या का सामना करना पड़ता है। साथ ही कुछ लोगों को पैरों से दुर्गंध की समस्या भी होती है। पैरों की दुर्गंध न केवल शर्मिंदगी का कारण बनती है, बल्कि इससे खुजली, रैशेज, बैक्टीरिया और फंगल इंफेक्शन भी हो सकता है। अगर आप भी गर्मियों में पैरों की दुर्गंध से थक चुके हैं तो चिंता न करें क्योंकि आज हम आपको इससे निपटने के कुछ आसान और घरेलू उपाय बताएंगे।  पैरों में ज्यादा पसीना क्यों आता है? क्या आपने कभी सोचा है कि पैरों से इतना पसीना क्यों आता है? दरअसल, हमारे शरीर के किसी भी हिस्से की तुलना में पैरों में पसीने की ग्रंथियां अधिक होती हैं। जब बाहर का तापमान गर्म होता है तो पैरों से नमी छोड़ने के लिए अधिक पसीना आता है जो शरीर को ठंडा रखने में मदद करता है। एक तरह से यह हमारे लिए अच्छा होता है लेकिन जब इसमें से बदबू आने लगे तो यह शर्मनाक हो सकता है।  पैरों को नमक के पानी में भिगोएं पैरों की दुर्गंध से छुटकारा पाने के लिए आप सिरके का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए नमक के पानी में सिरका और आधा कप एप्सम घोलें। इसमें पैरों को करीब 10 से 20 मिनट तक भिगोएं और फिर गुनगुने पानी से धो लें।  पैरों को सूखा रखें न केवल नहाने के बाद बल्कि घर आने के बाद भी अपने पैरों को धोएं और सुखाएं। गर्मियों में पसीने को सोखने के लिए सूती मोजे पहनें।  पाउडर का प्रयोग करें अगर आपके पैरों में बहुत पसीना आता है, तो आप फुट एंटीपर्सपिरेंट का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा पैरों को सुखाने के लिए जूतों में थोड़ा सा कॉर्न स्टार्च या टैल्कम पाउडर छिड़कें।  हाइड्रेटेड रहना खूब पानी पीना पैरों के पसीने के जोखिम को कम करने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। यह शरीर के तापमान को नियंत्रित करने में मदद करता है, जिससे पसीना कम करने में मदद मिलती है।  साफ पैर एक बाल्टी गुनगुने पानी में 1/2 कप नमक, टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदें और 1/2 कप नींबू का रस मिलाएं। इसमें पैरों को 10-15 मिनट के लिए भिगो दें और फिर मसाज करते हुए सादे पानी से धो लें। फिर इन्हें अच्छे से सुखाकर मॉइश्चराइज करें।  फुट पैक पर लगाएं 1 चम्मच ग्लिसरीन में 3 चम्मच गुलाब जल और 2 चम्मच नींबू का रस मिलाएं। 30 मिनट तक लगाने के बाद पैरों पर मसाज करें और फिर ठंडे पानी से धो लें। इस पैक को हफ्ते में दो बार लगाने से पैरों की दुर्गंध से छुटकारा मिल जाएगा।  इन बातों का रखें ध्यान गर्मियों में स्ट्रैपी लेदर सैंडल, रबर स्नीकर्स और प्लास्टिक स्लिप-ऑन से बचें। ऐसे सैंडल चुनें जो ज्यादा टाइट न हों। अपने पैरों को दिन में दो बार धोने से गंध पैदा करने वाले बैक्टीरिया का विकास रुक जाएगा। ऐसे मोजे पहनें जो सांस ले सकें और नमी को आसानी से अवशोषित कर सकें।


खूब पानी पीना पैरों के पसीने के जोखिम को कम करने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक है। यह शरीर के तापमान को नियंत्रित करने में मदद करता है, जिससे पसीना कम करने में मदद मिलती है।

साफ पैर
एक बाल्टी गुनगुने पानी में 1/2 कप नमक, टी ट्री ऑयल की कुछ बूंदें और 1/2 कप नींबू का रस मिलाएं। इसमें पैरों को 10-15 मिनट के लिए भिगो दें और फिर मसाज करते हुए सादे पानी से धो लें। फिर इन्हें अच्छे से सुखाकर मॉइश्चराइज करें।

फुट पैक पर लगाएं
1 चम्मच ग्लिसरीन में 3 चम्मच गुलाब जल और 2 चम्मच नींबू का रस मिलाएं। 30 मिनट तक लगाने के बाद पैरों पर मसाज करें और फिर ठंडे पानी से धो लें। इस पैक को हफ्ते में दो बार लगाने से पैरों की दुर्गंध से छुटकारा मिल जाएगा।

इन बातों का रखें ध्यान
गर्मियों में स्ट्रैपी लेदर सैंडल, रबर स्नीकर्स और प्लास्टिक स्लिप-ऑन से बचें। ऐसे सैंडल चुनें जो ज्यादा टाइट न हों।
अपने पैरों को दिन में दो बार धोने से गंध पैदा करने वाले बैक्टीरिया का विकास रुक जाएगा।
ऐसे मोजे पहनें जो सांस ले सकें और नमी को आसानी से अवशोषित कर सकें।

Post a Comment

From around the web