हो गये है गालों पर पिंपल्स तो ये गलतियां ना करें, बढ़ जाएगी समस्या

 
हो गये है गालों पर पिंपल्स तो ये गलतियां ना करें, बढ़ जाएगी समस्या

लाइफस्टाइल डेस्क, जयपुर।। आजकल के बदलते लाइफस्टाइल में चेहरे पर मुंहासे आने की समस्या आम बात हो गई है। लेकिन अक्सर लड़कियां इस पर ज्यादा गौर नहीं करती है। इसके पीछे का कारण चेहरे की देखभाल स्किन टाइप के हिसाब से ना करना होता है। इसके कारण कई बार गालों पर पिंपल्स की समस्या तेजी से बढ़ने लगती है। साथ ही कई बार चेहरे की देखभाल में कुछ गलतियां करने से भी पिंपल्स कम होने की जगह पर बढ़ने लगते हैं। तो आइए आज हम आपको बतायेंगे पिंपल्स होने का कारण व चेहरे की देखभाल के कुछ खास टिप्स 

बार-बार चेहरा धोना
एक्सपर्ट के अनुसार, चेहरे पर मौजूद एक्सट्रा ऑयल को साफ करने के लिए सिंपल टिशू पेपर या वेट फेस वाइप्स इस्तेमाल करना बेस्ट ऑप्शन है। ऑयली स्किन वाली लड़कियां बार-बार पानी से चेहरा साफ करती है। मगर इससे स्किन में और भी ऑयल निकलने लगता है। ऐसे में पिंपल्स की समस्या होने लगती है। 

गलत स्किन केयर प्रोडक्‍ट यूज करना
बता दें कि, ज्यादातर लड़कियां एड देखकर या किसी के कहने पर चेहरे को चमकाने के लिए अलग-अलग स्किन केयर प्रोडक्ट इस्तेमाल करने लगती है। मगर कई बार इससे चेहरे पर निखार आने की जगह पर साइड इफेक्ट हो जाता है। एक्सपर्ट के अनुसार, ड्राई स्किन वालों को क्रीम बेस्ड एंटी पिंपल और ऑयली स्किन वालों को जेल या वाटर बेस्ड प्रोडक्ट्स इस्तेमाल करने चाहिए। असल में, हर किसी की स्किन अलग टाइप की होती है। ऐसे में हमेशा अपनी स्किन टाइप के मुताबिक ही चीजों का इस्तेमाल करना चाहिए। 

हो गये है गालों पर पिंपल्स तो ये गलतियां ना करें, बढ़ जाएगी समस्या

गंदा तकिया लेकर सोना
अक्सर सोते समय हमारी स्किन व बालों से तेल निकलकर तकिए पर जम जाता है। इससे गंदे बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। ऐसे में कई दिनों तक एक ही तकिया इस्तेमाल करने से गाल पर पिंपल्स होने का खतरा रहता है। इस समस्या से बचने के लिए हर 3-4 दिन में पिलो कवर बदलें।  

सनस्‍क्रीन का सही से इस्तेमाल ना करना
आपको बता दें कि,पिंपल्स होने पर गालों पर सनस्क्रीन ना लगाना लड़कियां सही समझती है। लेकिन सनस्क्रीन लगाने से स्किन का सूरज की तेज किरणों से बचाव रहता है। इसलिए अपनी स्किन टाइप के हिसाब से सनस्क्रीन चुनें और कहीं जाने के 10-15 मिनट पहले इसे लगाएं। खासकर इस बात का ध्यान रखें कि आपको सनस्क्रीन कम मात्रा में ही लगानी है।

इन बातों का भी रखें ध्यान

. कई महिलाओं का मानना है कि फेशियल स्टीम लेने से गाल के मुंहासे ठीक होने में मदद मिलती है। मगर ऐसा सोचना गलत है। असल में, इससे स्किन पोर्स बड़े हो जाते हैं। इसके कारण स्किन पर अधिक ऑयल जमा होने लगता है। मगर आप स्टीम लेना ही चाहते हैं तो इसे 15 से 20 दिनों के बीच लें। साथ ही 2 मिनट से ज्यादा स्टीम लेने से बचें।

. गालों पर रातभर कुछ भी ना लगाएं। इसकी जगह पर सोने से पहले पानी से चेहरा धोकर उसे टॉवल या कॉटन के कपड़े से टैप करते हुए सुखाएं।

. कोई होममेड पैक भी 10 मिनट से ज्यादा ना लगाएं।

. अगर आप बार-बार चेहरे पर हाथ लगाती है तो अपनी इस आदत को छोड़ दें। इसके अलावा हाथ धोकर ही चेहरा छुएं।

. ड्राई स्किन पर पिंपल्स जल्दी सूखने व उसपर पपड़ी जमने लगती है। ऐसी स्थिति में पिंपल्स को छिलने की गलती ना करें।

. पिंपल्स की समस्या होने पर प्रभावित जगह पर कैमिकल प्रोडक्ट्स लगाने से बचें। इसके अलावा माइल्ड स्क्रब ही यूज करें। स्क्रब को धीरे व हल्के हाथों से ही चेहरे पर लगाएं। टॉवल को भी चेहरे पर रगड़ने की जगह पर हल्के से इस्तेमाल करें।
 

Post a Comment

From around the web