प्रेग्नेंट वुमन को Panic Attack दे सकती हैं आपकी कही ये 7 बातें

 
s

लाइफस्टाइल डेस्क, जयपुर।।किसीा भी औरत के लिए प्रेगनेंट होना एक असीम सुख होता है। औरत मां बनने के लिए बहुत दर्द का सामना करती है इसलिए उसे प्रेगनेंसी के समय पति का साथ और विश्वास की जरूरत होती है। प्रेगनेसी के दौरान एक ऐसा समय होता है जब महिला को हर चीज के बारे में आराम और आश्वासन महसूस होना चाहीए। ऐसे में बॉडी शेमिंग या प्रसव दर्द के बारे में उसके साथ बात करना उन्हें पैनिक अटैक देने जैसा हो सकता है, जो उसकी और बच्चे की सेहत पर भी बुरा असर डाल सकता है। उसके आसपास ऐसी बातें करना उसे तनाव में भी ला सकता है जो सिर्फ मां ही नहीं बल्कि गर्भ में बच्चें के लिए भी खतरनाक साबित हो सकता है। आज हम यहां आपको 7 ऐसी बातें बताएंगे, जो एक गर्भवती महिला को बिल्कुल नहीं कहनी चाहिए।

बॉडी शेमिंग ना करें
जब कोई महिला एक बच्चे को जन्म देने वाली होती है तब उसके वजन, आकार और शरीर को लेकर बात नहीं करनी चाहिए। 

तुम्हारा प्रेगनेंसी ग्लो कहां है?
हमेशा ध्यान रखें की प्रेग्नेंट औरत के फेस ग्लो को लेकर कोई कमेंट न करें। गर्भावस्था के हार्मोन के लिए प्रत्येक महिला का शरीर अलग तरह से प्रतिक्रिया करता है और अगर आप उनके ग्लो की बात करके उन्हें इसके बुरा महसूस न करवाएं।

WOW... लगता है तुम्हें ट्विन्स होंगे
इस बात को लेकर कभी कमेंट करने की जरूरत नहीं है। महिलाएं अपने बंप को लेकर पहले से ही एक खास तरह का दबाव महसूस करती हैं।

डाइट को लेकर कुछ भी ना कहें
गर्भवती महिला जानती है कि उसके बच्चे के लिए सबसे अच्छा क्या है और क्या नहीं। उसे कुछ ना खाने के लिए गिल्टी फील कराने की जरूरत नहीं है।

अपनी प्रेगनेंसी को एंजॉय करें
प्रसव का दर्द का तनाव से लेकर वजन बढ़ने तक, एक गर्भवती महिला शारीरिक और भावनात्मक रूप से बहुत कुछ महसूस करती है। ऐसे में उसे ऐसे शब्द कहना सही नहीं है।

आप कब तक शेप में वापिस आने का प्लान बना रही हैं?
महिलाओं को किसी भी आकार या रूप में अपने शरीर को गले लगाने का पूरा अधिकार है। वह प्रेगनेंसी के बाद शेप में आना चाहती है या नहीं... ये सिर्फ उसका फैसला है।

बच्चे पैदा करने के लिए आप बहुत छोटी/बूढ़ी हैं
औरत की उम्र 20 हो या 40 महिलाओं के लिए मां बनने की कोई सही उम्र नहीं होती है। किसी भी उम्र में बच्चा होना एक खूबसूरत अनुभव होता है।

Post a Comment

From around the web