जूही चावला 53 साल में भी दिखती हैं फिट और जवां, ये योग है सीक्रेट

 
a

लाइफस्टाइल डेस्क, जयपुर।। बॉलीवुड में हीरोइनें ज्यादातर फिटनेस फ्रीक हैं और वों हमेशा खुद को फिट रखने के लिए योग का अभ्यास करती रहती हैं। जूही चावला का नाम भी इस लिस्‍ट में शामिल हैं। जूही चावला खुद को फिट रखने के लिए योग करती हैं लेकिन इंस्‍टाग्राम के माध्‍यम से फोटो शेयर कर फैन्‍स को योग के लिए इंस्‍पायर भी करती हैं।  बॉलीवुड एक्‍ट्रेस जूही चावला 53 साल की उम्र में इतनी फिट, एक्टिव और सुंदर दिखती हैं। वैसे वो पूर्व मिस इंडिया का खिताब हासिल कर चुकी जूही चावला अपनी ग्लोइंग और जवां स्किन के लिए जानी जाती हैं। इस उम्र में भी एक्ट्रेस अपनी बेदाग और जवां स्किन से यंग एक्ट्रेस को मात देती हैं। क्‍या आप जानती हैं कि उनकी फिटनेस और ग्‍लोइंग त्‍वचा का सीक्रेट योग है। 

अगर आप भी खुद को बढ़ती उम्र में फिट और जवां बनाए रखना चाहती हैं तो उनकी तरह योग करें। आइए जानें वह खुद को फिट रखने के लिए कौन-कौन से योगासन करती हैं।   

पद्मासन

juhi chawla lotus pose

जूही चावला पद्मासन को करना पसंद करती हैं, जिसे लोटस पोज भी कहा जाता है। उन्‍होंने इस योग को करते हुए खुद की एक तस्वीर शेयर की हैं और इसके कैप्‍शन में लिखा, ''मैं सच्चाई और सादगी में विश्वास करती हूं। मुझे अपने देश, अपने भारत पर विश्वास है।"

 तरीका

  • इसे करने के लिए अर्ध पद्मासन में दाहिने पैर को बाईं जांघ पर रखकर बैठें।
  • फिर बाएं पैर को उठाएं और दाहिनी जांघ पर रखें। 
  • अब पैरों को कूल्‍हों के करीब स्‍ट्रेच करें।
  • घुटनों को फर्श पर गिराएं।
  • हथेलियों को अपने घुटनों पर रखें।
  • दूसरे पैर से दोहराएं।

पद्मासन के फायदे

इस मुद्रा को ध्यान मुद्राभी कहा जाता है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि यह ध्यान के लिए एक आवश्यक आधार बनाता है। यह दिमाग को शांत करता है और लगातार अभ्यास के साथ हिप्‍स को खोलता है। साथ ही पद्मासन रीढ़ के माध्यम से प्रवाह या ऊर्जा को भी निर्देशित करता है, जिसे प्राण कहा जाता है।

यह आसन रीढ़ को सीधा रखते हुए घुटनों और टखनों को फैलाने में मदद करता है जो पोश्चर को अच्‍छा बनाए रखने में मदद करता है। इसके अलावा, यह पीरियड्स की परेशानियां और साइटिका को भी कम करता है और जोड़ों को लचीला रखने में मदद करता है।

वृक्षासन

juhi chawla tree pose

जूही चावला खुद को फिट रखने के लिए वृक्षासन भी करती हैं। उन्‍होंने इस योग को करते हुए भी खुद की एक तस्वीर शेयर की हैं और इसके कैप्‍शन में लिखा, ''मेरा योग और आयुर्वेद में विश्वास है। 

तरीका

  • सबसे पहले जमीन पर सीधी खड़ी हो जाएं। 
  • फिर दाहिने पैर को मोड़ें और अपने बाएं पैर के अंदरूनी जांघ पर रखें। 
  • ध्‍यान रखें कि पैरों की अंगुलियां नीचे की ओर होनी चाहिए। 
  • साथ ही दाहिना पैर बाएं पैर की सीध में होना चाहिए।
  • बाएं पैर को सीधा रखते हुए बैलेंस बनाए रखें।
  • अच्छा बैलेंस बनाने के बाद गहरी सांस अंदर लें।
  • फिर धीरे-धीरे हाथों को नमस्कार की मुद्रा में लेकर आएं।
  • रीढ़ की हड्डी और शरीर को स्‍ट्रेच करके रखें। 
  • कुछ देर इस पोजीशन रखकर बाहर आ जाएं।  
  • दूसरी पैर से भी इस क्रिया को दोहराएं।

वृक्षासन के फायदे

वृक्षासन आपके न्‍यूरो मस्‍कुलर को बेहतर बनाता है। साथ ही, इस आसन से पैरों की मसल्‍स मजबूत होती है। वृक्षासन करने से आपके ब्रेन की सजगता बढ़ती है और आप अपना काम ध्‍यान लगाकर सकती हैं। एड़ियों का दर्द कम होता है और उसमें लचीलपन बढ़ता है। पैरों के मसल्‍स में मजबूती आती है। इसके अलावा, इससे आपकी बॉडी में स्‍ट्रेच और चेहरे पर ग्‍लो आता है।

बालासन

juhi chawla child pose

जूही चावला खुद को फिट रखने के लिए बालासन भी करती हैं। यूं तो इस आसान से दिखने वाले योगासन के बहुत सारे हेल्‍थ बेनिफिट्स हैं। उन्‍होंने इस योग को करते हुए भी खुद की एक तस्वीर शेयर की हैं और इसके कैप्‍शन में लिखा, ''मुझे नम्रता और दयालुता में विश्वास है। मुझे प्रकृति और शाश्वत दिव्य प्रकाश में विश्वास है।''

बालासन करने का तरीका

  • सबसे वज्रासन में बैठ जाएं। 
  • अब गहरी सांस लेते हुए बॉडी के ऊपरी हिस्से को सामने की ओर झुकाएं। 
  • दोनों हाथ-पीछे की ओर रखें और कोशिश करें कि सिर सामने जमीन को छुएं। 
  • अब जितना हो सके उतनी देर इसी पोजीशन में रहने की कोशिश करें। 
  • फिर सांस छोड़ते हुए शरीर के ऊपरी भाग को उठाते हुए वज्रासन की पोजीशन में वापस आ जाएं।
  • ऐसा कम से कम 5 बार करें।

बालासन के फायदे

ये आसन शरीर को आराम देने का काम करता है। इसे नियमित रूप से करने से शरीर का सारा दर्द खत्म हो जाता है। बालासन जैसे ही नाम से प्रतीत होता है, इसे करना बहुत आसान है। चाइल्ड पोज करने से पीठ, हिप्स, थाइस और टखनों में स्ट्रेच आता है और कमर दर्द से राहत मिलती है। 

Post a Comment

From around the web