40 की उम्र में ये एक्सरसाइज आपको रखेंगी फिट और एक्टिव

 
s

लाइफस्टाइल डेस्क, जयपुर।। वैसे तो हर उम्र के लोगों के एक्सरसाइज करने की सलाह दी जाती है लेकिन 40 के बाद डॉक्टर विषेश रूप से एक्सरसाइज करने की सलाह देते हैं। रेगुलर एक्सरसाइज करने से ना सिर्फ शरीर में चुस्ती रहती है बल्कि यह दिमाग को भी रिलेक्स करता है। बढ़ती उम्र के साथ इंसान का शरीर थोड़ा ढीला पड़ने लगता है। इस कारण शरीर की चुस्ती और दुरुस्ती दोनों पर ही असर पड़ता है। कभी-कभी कुछ दूर चलने पर भी थकान महसूस होने लगती है। हर किसी व्यक्ति के वर्कआउट करने की वजह अलग होती है। कई लोग इसलिए वर्कआउट करते हैं क्योंकि वो वजन कम करना चाहते हैं तो कुछ मसल्स बिल्ड कर सकें। तो अगर आप अपने 40 के दशक की ओर बढ़ रही हैं तो आपको ना केवल फिट रहने बल्कि स्वस्थ रहने के लिए भी एक्सरसाइज करने की जरूरत है। 

चेयर स्क्वॉट्स 

s

फिट रहने के लिए स्क्वाट एक शानदार एक्सरसाइज है जो एक ही समय में कई मांसपेशियों पर काम करता है। लेकिन यह करना बढती उम्र के साथ यह हमारे घुटनों और टखनों के लिए चैलेंजिंग हो सकता है। 

प्लैंक्स 

s

प्लैंक्स ताकत और सहनशक्ति बढ़ाते हैं। ये आपके ऊपरी और निचले शरीर को कोर के साथ एंगेज करते हैं। याद रखें कि आप शुरुआत में 20-30 सेकंड तक होल्ड करें और फिर हर दिन कुछ सेकंड इसे बढ़ाए। बॉडी वेट प्लैंक में आप अपना वजन अपनी हथेलियों या कोहनियों पर रखते हैं। 

वॉल पुश-अप्स 
आपकी बढ़ती उम्र के साथ महिलाओं की उपर की बॉडी में फैट बढ़ जाता है। ये कसरत आपकी बाजुओं और सीने को टोन करने में मदद करेंगे। इसके लिए आगे की ओर झुकें और अपनी हथेलियों को अपने कंधे की चौड़ाई पर लाकर दीवार पर रखें और सांस अंदर लेते हुए दीवार की ओर सीने को ले जाएं सांस छोड़ते हुए पीछे आ जाएं। 

स्पॉट जॉगिंग 
लाइट जॉग करने से कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती है। आप इसे सुबह या शाम, कभी भी कर सकती हैं। ऐसे व्यायाम करना महत्वपूर्ण है जो आपकी हृदय गति को बढ़ाते हैं और अगर आपने अभी ही एक्सरसाइज करना शुरू किया है तो शुरुआत में धीमी गति से ही करें। 

रस्सी कूदना 

s

हालांकि डबल जंप और हाई जंप से बचें और किसी भी तरह की चोट से बचने के लिए फर्श पर सॉफ्ट लैंड करने की कोशिश करें।

चेयर डिप्स 

s

इसके लिए अपनी हथेलियों को कुर्सी पर, पैरों को आगे की ओर रखें जबकि आपके कूल्हे कुर्सी पर न हों। अब अपनी कोहनियों को 90 डिग्री तक झुकाते हुए अपने निचले शरीर को फर्श के करीब लाएं। इसे थोड़ा आसान बनाने के लिए आप अपने घुटनों को मोड़ सकते हैं।
 

Post a Comment

From around the web