डेल्टा वेरिएंट के कारण Germany में 80 प्रतिशत नए मामले

 
uy

जयपुर डेसक !!! स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पैन ने कहा कि डेल्टा वैरिएंट जर्मनी में प्रमुख कोविड स्ट्रेन बन सकता है। इसकी वजह ये है कि कुल पॉजिटिव मामलों में इस वेरिएंट की हिस्सेदारी 80 प्रतिशत के करीब पहुंच गई है। नियंत्रण और रोकथाम बीमारी के लिए जिम्मेदार संघीय एजेंसी और अनुसंधान संस्थान रॉबर्ट कोच इंस्टीट्यूट (आरकेआई) के अनुसार, ज्यादा संक्रामक डेल्टा वेरिएंट के कारण नए कोविड -19 संक्रमणों की हिस्सेदारी पिछले सप्ताह से पहले ही दोगुनी से ज्यादा हो गई है । वर्तमान में यह 37 प्रतिशत है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने गुरुवार को संवाददाताओं से कहा कि जर्मन सरकार गर्मियों के अंत तक पूरी वयस्क आबादी का टीकाकरण करने के अपने वादे को निभाने में सक्षम होगी।

उन्होंने कहा कि जितने ज्यादा लोग अपनी दूसरी वैक्सीन खुराक प्राप्त करेंगे, डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ सुरक्षा का स्तर उतना ही ज्यादा होगा।

आरकेआई के अनुसार, अब तक जर्मनी में लगभग 31 मिलियन लोगों को पूरी तरह से टीका लगाया जा चुका है, जिससे देश की टीकाकरण दर 37.3 प्रतिशत हो गई है।

स्पैन ने अपने गैर-टीकाकरण वाले हमवतन से नियमित रूप से परीक्षण करने का अनुरोध किया।

उन्होंने कहा “यह पिछले साल से एक और महत्वपूर्ण अंतर है, हमारे पास बड़े पैमाने पर परीक्षण उपलब्ध हैं।”

आरकेआई ने कहा इस बीच, दैनिक कोविड -19 संक्रमणों की संख्या में गिरावट जारी है क्योंकि गुरुवार को 24 घंटे के भीतर 892 नए मामले दर्ज किए गए, एक सप्ताह से भी कम समय पहले 116 थे।

पिछले साल की शुरूआत में महामारी की शुरूआत के बाद से अब तक जर्मनी में आधिकारिक तौर पर 3,736,959 मामले दर्ज किए गए हैं।

आरकेआई के अनुसार, मरने वालों की संख्या 90,938 थी।

–आईएएनएस

Post a Comment

From around the web