High Protein भी हो सकता है सेहत के लिए हानिकार, जानिए कितनी मात्रा लें वजन के हिसाब से प्रोटीन

 
 High Protein भी हो सकता है सेहत के लिए हानिकार, जानिए कितनी मात्रा लें वजन के हिसाब से प्रोटीन

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। प्रोटीन मानव शरीर के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण कारक है। यह हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। प्रोटीन हमारे शरीर के वजन का 18-20% हिस्सा बनाता है। प्रोटीन शरीर के ऊतकों को भी स्वस्थ रखता है। इसके गुणों को देखकर जो लोग जिम जाते हैं या कसरत करते हैं वे इसके सप्लीमेंट का इस्तेमाल करने लगते हैं। लेकिन शरीर में प्रोटीन के अधिक सेवन से शरीर में कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं। हालांकि इसके लक्षण जल्दी सामने नहीं आते। लेकिन धीरे-धीरे इसका असर शरीर में दिखने लगता है। तो आइए जानते हैं इससे होने वाली बीमारियों के बारे में...

प्रोटीन हानिकारक क्यों है?
ज्यादा प्रोटीन सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। इसके प्रभाव से किडनी की समस्या, कब्ज की समस्या, हड्डियों में कमजोरी, डिहाइड्रेशन, जोड़ों का दर्द हो सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि शरीर प्रोटीन की अतिरिक्त मात्रा को पचा नहीं पाता और शरीर में कीटोन्स की मात्रा बढ़ जाती है। केटोस एक ऐसा टॉक्सिन है जो शरीर को नुकसान पहुंचाना शुरू कर देता है। इस पदार्थ को शरीर से बाहर निकालने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी पीना चाहिए। यह पदार्थ पानी के सेवन के बिना शरीर से बाहर नहीं जाता है।

गुर्दे खराब
गुर्दे रक्त में प्रोटीन को साफ करने का काम करते हैं। जब भी शरीर में प्रोटीन की मात्रा बढ़ती है तो यह किडनी पर दबाव बढ़ाता है। शरीर से अतिरिक्त नाइट्रोजन को बाहर निकालने के लिए किडनी को अधिक मेहनत करनी पड़ती है। इससे कई बार किडनी खराब हो सकती है।

कब्ज
प्रोटीन युक्त आहार में फाइबर की मात्रा कम होती है। भोजन के पाचन के लिए प्रोटीन आवश्यक है। लेकिन इसकी अधिक मात्रा कब्ज का कारण बन सकती है। पेट से जुड़ी अन्य समस्याएं प्रोटीन के कारण शरीर को घेर लेती हैं।

High Protein भी हो सकता है सेहत के लिए हानिकार, जानिए कितनी मात्रा लें वजन के हिसाब से प्रोटीन

कमजोर हड्डियां
उच्च प्रोटीन खाद्य पदार्थों को आहार में शामिल करने से कैल्शियम की कमी हो जाती है और हड्डियों को पर्याप्त पोषण नहीं मिल पाता है। इससे हड्डियों में कमजोरी आ सकती है।

दिल की बीमारी
इससे शरीर में सैचुरेटेड फैट और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाती है। जो खराब कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है और हृदय रोग का कारण बनता है। जो लोग उच्च प्रोटीन आहार के लिए मांसाहारी भोजन करते हैं। उनके शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ जाता है। इससे हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है।

पोषक तत्वों की कमी
प्रोटीन युक्त आहार खाने से भूख कम लगती है। जिससे शरीर के बाकी हिस्सों में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है। प्रोटीन के अलावा शरीर को पर्याप्त मात्रा में विटामिन, मिनरल, फाइबर और मिनरल्स की जरूरत होती है। इनकी कमी से शरीर में और भी कई बीमारियां हो सकती हैं।

यूरिक एसिड बढ़ाता है
अधिक प्रोटीन खाने से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है। हालांकि, 40 से अधिक लोगों में यूरिक एसिड का स्तर एक समस्या है। लेकिन खराब खान-पान और खराब सेहत की वजह से यह समस्या युवाओं को भी प्रभावित कर सकती है।

अगर आपका वजन 80 किलो है तो आप अपनी डाइट में 1 किलो प्रोटीन शामिल कर सकते हैं। वजन के हिसाब से प्रोटीन खाएं।

Post a Comment

From around the web