क्या  सुरक्षित है प्रेग्नेंसी के दौरान सीढ़ियां चढ़ना? जानिए क्या कहते है एक्सपर्ट्स

 
क्या  सुरक्षित है प्रेग्नेंसी के दौरान सीढ़ियां चढ़ना? जानिए क्या कहते है एक्सपर्ट्स

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। महिलाओं के लिए प्रेग्नेंसी का समय बेहद खास होता है। इस दौरान महिलाओं को अपने होने वाले बच्चे का खास ख्याल रखना पड़ता है। दोस्त, पड़ोसी, रिश्तेदार और कई अन्य महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान सकारात्मक रहने की सलाह देते हैं। इतना ही नहीं घर के बड़े बुर्जुग भी इस दौरान महिलाओं को सीढ़ियां चढ़ने से रोकते हैं। उनका मानना ​​है कि गर्भावस्था के दौरान सीढ़ियां चढ़ने से महिलाओं को थकान महसूस होती है। कई लोगों का यह भी मानना ​​है कि सीढ़ियां चढ़ने से महिलाओं की सेहत पर बुरा असर पड़ता है। महिलाएं अक्सर इस बात को लेकर असमंजस में रहती हैं कि इस दौरान सीढ़ियां चढ़ें या नहीं। तो आइए हम आपको बताते हैं कि प्रेग्नेंसी के दौरान आपको सीढ़ियां चढ़नी चाहिए या नहीं...

क्या गर्भावस्था के दौरान सीढ़ियां चढ़ना ठीक है?
गर्भावस्था के शुरूआती दिनों में शरीर में संतुलन बना रहता है। इसलिए इस दौरान सीढ़ियां चढ़ना सुरक्षित माना जाता है। अगर गर्भवती महिलाएं पहले 2-3 महीनों में सीढ़ियां चढ़ती हैं, तो इससे उनका शरीर भी स्वस्थ रहता है। डॉक्टरों के अनुसार गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को हल्का व्यायाम करना चाहिए। सीढ़ियां चढ़ना भी एक तरह का व्यायाम है। इसलिए शुरुआती दौर में सीढ़ियां चढ़ना सुरक्षित माना जाता है।

गर्भावस्था के दौरान सीढ़ियां चढ़ने के क्या फायदे हैं?
जानकारों के मुताबिक अगर गर्भावस्था के शुरूआती 2-3 महीनों में महिलाएं सीढ़ियां चढ़ती हैं तो उन्हें भी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या नहीं होती है।

सीढ़ियां चढ़ने से गर्भावधि मधुमेह का खतरा भी काफी हद तक कम हो जाता है।

शोध के अनुसार अगर गर्भावस्था के दौरान महिलाएं सीढ़ियां चढ़ती हैं तो इसका उनके स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

प्रेग्नेंसी में सीढ़ियां चढ़ने के नुकसान
गर्भावस्था के चौथे या पांचवें महीने के बाद महिलाओं के शरीर का वजन बढ़ना शुरू हो जाता है। ऐसे में सीढ़ियां चढ़ते समय गिरने और फिसलने का खतरा रहता है।

इस बीच महिलाओं के शरीर में थकान महसूस होती है, जिसके कारण जब भी महिलाएं सीढ़ियां चढ़ती हैं तो उन्हें सांस लेने में तकलीफ, सांस लेने में तकलीफ, अचानक तेज प्यास लगना जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं।

इसके अलावा अगर गर्भवती महिलाएं सीढ़ियां चढ़ती हैं तो गर्भपात का खतरा भी बढ़ सकता है। अगर कोई महिला पांचवें महीने के बाद सीढ़ियां चढ़ती है तो इसका असर गर्भ में पल रहे बच्चे पर पड़ता है। जन्म के समय बच्चे का वजन भी कम हो सकता है।

क्या सावधानियाँ बरतनी चाहिए?
अगर किसी कारण से आप सीढ़ियां चढ़ने के लिए पढ़ाई कर रहे हैं तो जल्दबाजी न करें।

, हमेशा धीरे-धीरे सीढ़ियाँ ऊपर और नीचे जाएँ। इसके अलावा आपको गर्भावस्था के दौरान सीढ़ियों से ऊपर और नीचे जाते समय रेलिंग को एक हाथ से पकड़ना चाहिए।

अगर आपके घर या ऑफिस की सीढ़ियों पर चटाई है तो इस बात का भी ध्यान रखें कि चटाई मुड़ी न हो। अगर आपको सीढ़ियों से ऊपर और नीचे जाते समय सांस लेने में तकलीफ होती है, तो थोड़ी देर टहलें।

इस दौरान सीढ़ियों का इस्तेमाल तभी न करें जब आपने ढीले कपड़े पहने हों।

Post a Comment

From around the web