आज के दौर में स्वास्थ्य के लिए सबसे बड़ा खतरा है प्लास्टिक, जानिए इसके Side इफेक्ट्स

 
आज के दौर में स्वास्थ्य के लिए सबसे बड़ा खतरा है प्लास्टिक, जानिए इसके Side इफेक्ट्स

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। प्लास्टिक का उपयोग स्वास्थ्य के साथ-साथ पर्यावरण के लिए भी हानिकारक है। इसका उपयोग सीधे मानव शरीर को लेड, कैडमियम और मरकरी जैसे खतरनाक रसायनों के संपर्क में लाता है। ये विषाक्त पदार्थ कैंसर के जन्म दोष का कारण बनते हैं, प्रतिरक्षा प्रणाली और बच्चों के विकास को प्रभावित करते हैं। प्लास्टिक की बोतलों, खाद्य पैकेजिंग सामग्री में बिस्फेनॉल-ए नामक विषैला पदार्थ पाया जाता है। यह जहर सेहत को गंभीर नुकसान पहुंचाता है। यह थायराइड हार्मोन रिसेप्टर को भी प्रभावित करता है। इससे हाइपोथायरायडिज्म जैसी खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं। तो आइए हम आपको बताते हैं कि प्लास्टिक किस तरह सेहत के लिए हानिकारक है।

प्लास्टिक से होने वाले रोग

दमा

पल्मोनरी कैंसर यह कैंसर फेफड़ों से जहरीली गैसों को बाहर निकालने के कारण हो सकता है।
गुर्दे की बीमारी का कारण बन सकता है।

नसों और हृदय को भी नुकसान हो सकता है।

इसके इस्तेमाल से कैसे बचें?
यहां तक ​​कि पानी भी हमेशा प्लास्टिक की बोतलों में आता है। इसलिए ऐसी बोतलें भी खरीदना बंद कर दें।

प्लास्टिक का पूर्ण बहिष्कार करने का प्रयास करें। अगर आप घर से सामान लेने जा रहे हैं तो शॉपिंग बैग अपने साथ रखें।
आप प्लास्टिक बैग के बजाय कार्डबोर्ड चुन सकते हैं। कार्डबोर्ड एक बायोडिग्रेडेबल सामग्री है, यह पर्यावरण के लिए भी फायदेमंद है। घर पर या यहां तक ​​कि रेस्टोरेंट में भी ड्रिंक्स के लिए स्ट्रॉ का इस्तेमाल न करें।
प्लास्टिक के कंटेनर में खाना भी न खरीदें। ऐसा करके आप अपने आप को जहरीले जहर से बचा सकते हैं।
खाने को स्टोर करने के लिए टिफिन बॉक्स या कांच के कंटेनर का उपयोग करें। प्लास्टिक के कंटेनर और बैग का प्रयोग न करें।

Post a Comment

From around the web