सुबह गर्म पानी में शहद डालकर पीने के फायदे 

 
सुबह गर्म पानी में शहद डालकर पीने के फायदे

सुबह गुनगुना पानी पीने के स्वास्थ्य लाभ: युगों के लिए, पूर्वी चिकित्सा चिकित्सकों ने चयापचय को किक-स्टार्ट करने के लिए एक गिलास गुनगुने पानी के साथ दिन की शुरुआत करने का सुझाव दिया है। विभिन्न प्रकार के पेय विकल्पों के साथ, गुनगुना पानी शायद सबसे अच्छा विकल्प है। लेकिन क्या यह सेहत के लिए फायदेमंद है? सर्दियाँ लगभग यहाँ हैं, जैसा कि आपने महसूस किया होगा कि इन दिनों सुबह और शाम के तापमान में 5-6 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई है। आजकल मौसम के इस बदलाव के कारण सामान्य पानी भी ठंडा महसूस कर रहा है। विशेषज्ञों के अनुसार, बर्फीले-ठंडे पानी को पीना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है और आपको कई समस्याएं दे सकता है। विशेष रूप से अस्थमा और साइनस के रोगियों के लिए, ठंडा पानी गंभीर समस्या पैदा कर सकता है। आइए गुनगुने पानी पीने के कुछ लाभों पर ध्यान दें और ठंडा पानी आपके स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है।

गुनगुना पानी पीना क्यों फायदेमंद है?

मौसम में बदलाव के दौरान गुनगुना पानी पीना आपके लिए हमेशा फायदेमंद होता है। गुनगुना गर्म पानी का मतलब नहीं है; यही है, इसे उबालना नहीं चाहिए (क्योंकि इसे पीते समय आपका मुंह जल जाएगा)। ज्यादा गर्म पानी पीने से आपके गले और मुंह के अंदर जलन भी हो सकती है। इसलिए ध्यान रखें कि पानी सहन करने योग्य होना चाहिए। यह निर्देश श्वसन रोगियों के लिए सबसे महत्वपूर्ण है।

वजन घटाने के लिए गुनगुना पानी: विशेषज्ञों के अनुसार, गुनगुने पानी का सेवन आपकी आंत को तैयार करता है और वजन घटाने में योगदान देता है। यह सूजन को रोकता है, आंतों को साफ करता है, और आंतों के संकुचन के माध्यम से, अतिरिक्त पानी के वजन से छुटकारा पाने में मदद करता है। गुनगुना पानी भी शरीर के तापमान को बढ़ाता है, जिससे शरीर अपने तापमान को वापस सामान्य करने के लिए ऊर्जा का प्रसार करता है। यह ऊर्जा आउटगो चयापचय में सुधार करती है।

उपापचय

गुनगुना पानी चयापचय को बढ़ावा देता है: चूंकि मौसम बदल रहा है, यह आपके चयापचय और पाचन को भी प्रभावित करेगा। चूँकि आपके भोजन को पचाने के लिए शरीर गर्मी का भी सहारा लेता है, अगर आप ठंडा पानी पीते हैं, तो आपको पाचन की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। गुनगुना पानी पीने से शरीर का मेटाबॉलिज्म तेज होता है। इससे आपका शरीर अधिक वसा जलता है। एक अच्छा चयापचय आपके पूरे शरीर के लिए फायदेमंद होता है।

गुनगुना पानी और नाक की भीड़: कम शोध में, जांचकर्ताओं ने पाया कि गुनगुना पानी पीने से नाक के बलगम वेग को बढ़ावा मिलता है और दोनों ही जमने वाले पानी को हरा देते हैं। ध्यान दें, परिणाम तीस मिनट के भीतर घट गए।

श्वास नली बर्फ के ठंडे पानी से सिकुड़ जाती है

जब आप फ्रीज का पानी पीते हैं, तो यह आपके श्वसन मार्ग को प्रभावित करता है। ठंडे पानी की वजह से आपकी नाक का बलगम गाढ़ा हो जाता है और सांस की नली फूल जाती है। आपको सांस लेने में परेशानी हो सकती है। ऐसी स्थिति की पहचान कैसे करें? सबसे आसान तरीका यह है कि आपको सांस लेते समय असुविधा महसूस होती है। एक सामान्य व्यक्ति के लिए यह थोड़ा परेशानी भरा हो सकता है। लेकिन श्वसन रोगियों, ईोसिनोफिलिया के रोगियों और साइनस प्रभावित लोगों के लिए, ऐसी स्थिति मुश्किल हो सकती है, जो कई बार घातक साबित हो सकती है।

पानी

क्या ठंडे पानी से दिल की धड़कन कम हो जाती है? ठंडा पानी पीने से आपके दिल की धड़कन भी कम हो जाती है। शोध बताते हैं कि ठंडा पानी आपकी योनि की नसों को सिकोड़ता है। यह तंत्रिका आपके तंत्रिका तंत्र का एक अनिवार्य हिस्सा है, जो शरीर की कई गतिविधियों को नियंत्रित करता है। इसलिए दिल के मरीजों के लिए ठंडा पानी पीना भी बहुत खतरनाक हो सकता है।

Post a Comment

From around the web