इन चार पौधो का इस्तेमाल करने से नहीं होती कभी डायबिटीज की समस्या

 
इन चार पौधो का इस्तेमाल करने से नहीं होती कभी डायबिटीज की समस्या

लाइफस्टाइल डेस्क, जयपुर।। आजकल का समय ऐसा चल रहा है जहां हर किसी को कोई न कोई हेल्थ प्राब्लम है यानी शारीरिक समस्या से जूझ रहे है यही वजह है की इस बनाबटी दुनिया में हमारा खाना भी खोखला और बस दिखावटी रह गया है और बाजारों में ज्यादातर सब्जियों में भी मिलाबट की जाती है जो हमारे शरीर को कई तरह से नुकसान पहुंचा रही है। बाजारों में 90 प्रतिशत से ज्यादा चीज़ों में मिलावट की जाती है

कैंसर और शुगर की परेशानी को दूर करेगा एलोवेरा का पौधा एलोवेरा एक मेडिसनल प्लांट है जो डायबिटीज के मरीजों के लिए भी बहुत ही उपयोगी है। इसमें कुछ ऐसे तत्व होते हैं जो हाई ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखने में मदद करते हैं। ब्लड में ग्लूकोज की मात्रा को कंट्रोल करने के लिए एलोवेरा एक संजीवनी बूटी की तरह काम करता है। 

मोटापे को कम करता है नीम का पौधा आयुर्वेद में नीम का पौधा भी एक मेडिसन की तरह काम करता है। नीम के हरे पत्तों में ग्लाइकोसाइड्स और कई एंटी-वायरल तत्व पाए जाते है जो रक्त में ग्लूकोज की मात्रा को कम करने में काफी सहायक है। 

इन चार पौधो का इस्तेमाल करने से नहीं होती कभी डायबिटीज की समस्या

स्‍टीविया प्‍लांट भी डायबिटीज के रोगियों के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके पत्ते मीठे होते हैं। आप इसके पत्तों को सुखाकर और पाउडर बनाकर चाय, शर्बत या किसी भी चीज में शक्कर की तरह प्रयोग में ला सकते हैं। इसकी पत्तियां ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में भी काफी सहायक है। इसमें जीरो-कैलोरी होती है और यह वेट कम करने के लिए भी उपयोगी है।

इंसुलिन प्‍लांट का भी आयुर्वेद में काफी महत्‍व है। डायबिटीज के मरीजों के लिए यह प्लांट काफी लाभकारी होता है। इंसुलिन की पत्तियों का स्‍वाद खट्टा होता है। इसके सेवन से ब्लड में शुगर लेवल कम किया जा सकता है।

Post a Comment

From around the web