पीठ दर्द की समस्या को दूर करने के लिए करे यह आसन 

 
असं

पीठ दर्द आजकल एक बहुत ही आम समस्या बन चुकी है। जिसकी वजह है गलत पोस्चर और लाइफस्टाइल और हाल-फिलहाल तो इस समस्या को वर्क फ्रॉम होम कल्चर ने और ज्यादा बढ़ा दिया है। पहले जहां कमर दर्द की शिकायत ज्यादातर बूढ़े लोगों को होती थी वहीं अब यह नौजवानों को भी परेशान करने लगी है। जो जेल या स्प्रे लगाकर कुछ देर मिलने वाले राहत से काम चलाते रहते हैं 

आसन

हथेलियों को पलटते हुए ऊपर की ओर ले जाएं।अब लंबी गहरी सांस भरते हुए शरीर को तानें (खींचें)। पैर के पंजों से शरीर के निचले हिस्से को खींचें और हाथों से ऊपर के हिस्से को।यहां पर सांसों को अपनी क्षमतानुसार रोक कर रखें।धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए शरीर को ढीला छोड़ देंकमर दर्द दूर करने में ये आसन भी बहुत लाभदायक है।इसमें घुटनों के बल बैठ जाएं।अब अपने दाएं हाथ को आगे से घुमाते हुए पीछे ले जाएं और दाएं पैर की एड़ी को छूने की कोशिश करें।सेतुबंधासन में आपका शरीर किसी सेतु यानी ब्रिज के समान दिखाई देता है।

लंबी गहरी सांस लेते हुए धीरे-धीरे कूल्हों को ऊपर की ओर उठाना है।कूल्हों को उठाने के लिए आप हाथों का भी सहारा ले सकते हैंऊपर जाकर क्षमतानुसार सांसों को रोकें और फिर धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए पुनः पहली अवस्था में आ जाएं।इसके लिए पेट के बल लेट जाएं। हाथों को अपने छाती के बगल में टिका लें और माथा मैट पर रहेगा।अब लंबी गहरी सांस भरते हुए बॉडी को ऊपर उठाएं। कोशिश करें नाभि मैट से ही लगी रहे।खोलकर रखें और गर्दन को धीरे-धीरे पीछे ले जाएंजितनी देर तक शरीर को इस स्थिति में रोक सकते हैंइस आसन में आपके कमर, गर्दन में पड़ने वाला खिंचाव ही दर्द निवारक की तरह काम करता है।धनुरासन का अभ्यास करते वक्त आपका शरीर बिल्कुल एक धनुष के समान दिखाई देना चाहिए।इसके लिए भी आपको पेट के बल ही लेटना है।घुटनों को मोड़ लें और हाथों से पैर के पंजों को पकड़ लें।गहरी सांस भरते हुए, हाथों से पैर को खींचें जिससे शरीर के आगे का हिस्सा खुद-ब-खुद ऊपर उठने लगेगा।जितनी देर तक आरामपूर्वक रह सकते हैं 

Post a Comment

From around the web