क्या आप जानते है तुलसी के पत्ते के इस्तेमाल से नहीं आती है बीमारियां पास, कैसें करें इस्तेमाल?

 
क्या आप जानते है तुलसी के पत्ते के इस्तेमाल से नहीं आती है बीमारियां पास, कैसें करें इस्तेमाल?

हैल्थ न्यूज डेस्क।। बदलते लाइफस्टाइल मे जमाने में सभी तरह की चीजें ऐसी हो गई है जिनके इस्तेमाल से इंसान का शरीरी बहुत तेजी से बीमारीयों का शिकार बन जाता है। कहीं ना कहीं इन सब का कारण हमार गलत लाइफस्टाइल व खराब खानपान है। इन्ही सबके कारण हमारे शरीर की इम्यनिटी कम हो जाती है और हम जल्दी से ​बीमारीयों की पकड में आ जाते हैं। ऐसे में सभी को नियमित रूप से तुलसी के पतों का सेवन करना चाहिए। हाल ही में हुये एक अध्ययन के अनुसार, तुलसी की पत्तियां इन्फेक्शन के खिलाफ टी साइटोकिन्स, एनके (नेचर किलर) सेल और टी लिम्फोसाइट्स जैसी इम्यून सेल्स का उत्पादन बढ़ाती हैं।

तुलसी में इम्यून-मोडुलेटरी तत्व होते हैं, जिस वजह से ये इम्युनिटी सिस्टम मजबूत करने में भी मददगार है। एंटीऑक्सिडेंट और एंटीइन्फ्लैमटोरी गुण होने की वजह से ये बुखार कम करने और सर्दी-खांसी के इलाज में भी मदद करती है। साथ ही इसके सेवन से अनेकों बीमारीयां हमारे पास नहीं आती है। तो आइए जानते है इसके बारे में

क्या आप जानते है तुलसी के पत्ते के इस्तेमाल से नहीं आती है बीमारियां पास, कैसें करें इस्तेमाल?

तुलसी की चाय - एक कप गर्म पानी में तुलसी के कुछ पत्ते डालकर कम से कम दस मिनट का उबालें। बुखार, मलेरिया और डेंगू बुखार से राहत पाने के लिए इसे दिन में दो बार पिएं।

तुलसी का दूध - अगर आपको तेज बुखार है तो आप तुलसी के पत्तों को दूध में डालकर पिएं। इसके लिए आधे लीटर पानी में तुलसी के पत्ते और इलायची पाउडर डालकर उबाल लें। इसमें दूध और चीनी मिलाकर पिएं।

तुलसी का जूस - शरीर का तापमान कम करने के लिए आप तुलसी के पत्तों का जूस भी पी सकते हैं। ये बच्चों के लिए ज्यादा प्रभावी है। 10-15 पत्तों को थोड़े से पानी में मिलाकर जूस निकाल लें। हर दो से तीन घंटे में इसे ठन्डे पानी के साथ पिएं।

Post a Comment

From around the web