Oxygen की समस्या के समाधान के लिए शुरू हुआ हरियाली होम्स अभियान

 
x

हरित क्रांति और श्वेत क्रांति की तर्ज पर देशव्यापी हरियाली क्रांति अभियान चलाने वाले देश के मशहूर पर्यावरणविद पीपल बाबा दिल्ली एवं एनसीआर में कोरोना की दूसरी लहर आने के बाद हरियाली होम्स अभियान चला रहे हैं। हरियाली होम्स अभियान के तहत लोगों को बीज और खाद देकर बकायदे ट्रेनिंग दी जाती है, जिससे कि वे अपने घर में ऑक्सीजन देने वाले पौधे लगा सकें। पीपल बाबा की कई टीमें इस अभियान के तहत दिल्ली एवं एनसीआर में सक्रिय हैं।

हरियाली होम्स अभियान सबके लिए है। अगर कोई अपने घर में हरियाली होम्स डेवलप करना चाहता है तो उसे हरियाली क्रांति टीम से सम्पर्क करना होगा। हरियाली क्रांति टीम उनके घर तक जाएगी और हरियाली होम्स डेवलप करने का प्रशिक्षण, कम्पोस्ट खाद व ऑक्सीजन देने वाले पौधों के बीज का पैकेट मुफ्त में देगी।

हरियाली क्रांति अभियान के मुख्य रणनीतिकार बद्रीनाथ का कहना है कि दिल्ली एवं एनसीआर में शुरू हुआ यह अभियान आगे चलकर देश के हर हिस्सों में चलाया जायेगा और लोगों को हरियाली होम्स बनाने के लिए प्रेरित किया जायेगा।

बद्रीनाथ ने कहा, “हम चाहते हैं कि लोग अपने घर में आक्सीजन देने वाले पौधे लगाकर स्वस्थ रहें। उनके जीवन में कभी आक्सीजन की कमी ना हो। हमारा लक्ष्य देश के हर होम (घर) को हरियाली होम बनाने का है। इसी शुरूआत दिल्ली-एनसीआर में हो चुकी है और अब यह क्रांति पूरे देश में लाई जाएगी।”

पीपल बाबा का मानना है कि अगर देश के हर घर में कम ऊंचाई के ऑक्सीजन देने वाले पौधे लगा दिए जाएं तो निश्चित तौर पर देश के सभी लोगों का रोग प्रतिरिधक क्षमता बहुत मजबूत हो जाएगी। ऐसे में वायरस बहुत कम प्रभाव डाल पाएंगे। अगर हर घर ऐसा करने का संकल्प लेकर हरियाली होम्स बनाने का काम पूरा कर लेता है तो देश में स्वास्थ्य बजट को 70 फीसदी तक कम किया जा सकता है।

–आईएएनएस

Post a Comment

From around the web