अगर आपकी सांस भी फूलती है बार-बार तो न लें इसे हल्के में, हो सकती हैं जानलेवा बीमारियां

 
अगर आपकी सांस भी फूलती है बार-बार तो न लें इसे हल्के में, हो सकती हैं जानलेवा बीमारियां

हैल्थ न्यूज डेस्क।। आजकल थोड़ा सा ही शारीरिक श्रम करने के बाद बच्चों की सांस फूलने लगती है। सांस फूलना आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में एक आम बात हो गई है। ये स्थिति इस बात का संकेत कहते है कि आपके श्वसन तंत्र में रूकावट आ रही है और आप लगातार कमजोर होते जा रहे हैं। न सिर्फ व्यस्क लोग बल्कि आजकल टीनेजर में भी ये समस्या दिखने को मिल रही है। आपको कुछ बातों की जानकारी अवश्य होनी चाहिए अगर आपकी भी लगातार सांस फूलती है।

कैसे होती है सांस फूलने की स्थिति
इस दौरान आप सामान्य स्थिति से अलग बेहद जल्दी जल्दी सांस आने लगती है। जब थोड़ा सा फिजिकल वर्क करने के बाद तेज तेज सांस आने लगे या आप थका हुआ महसूस करने लगें तो ये सांस फूलने की स्थिति कहलाती है। कुछ लोगों में ये स्थिति बेहद कम समय के लिए होती है और तुरंत ठीक हो जाती है। जबकि कुछ लोगों में य स्थिति काफी अधिक समय तक रहती है और इन लोगों को सीने में जकड़न और भारीपन का एहसास होने लगता है। सांस फूलने की स्थिति बेहद कष्टदायी होती है। ये बीमारी अलग अलग लोगों को अलग अलग तरीके से होती है।

कुछ लोगों को सांस लेने के लिए अधिक प्रयास करना पड़ता है, क्योंकि ऐसे लोगों को सांस लेने के दौरान ऐसा अनुभव होता है कि वो ऑक्सीजन को ठीक से खींच नहीं पा रहे हैं और वायु उनके सीने में रूक रही है। हालांकि इस स्थिति से फेफड़ों  को किसी तरह की क्षति नहीं पहुंचती है। सांस फूलने के दौरान काफी घबराहट होती है और दिमाग बिल्कुल थका हुआ अनुभव करता है। यह वायु रक्त में मिलकर पूरी जीवित और उर्जावन बनाए रखने का काम करती है। हम मुंह और नाक से सांस के रूप में जो ऑक्सीजन लेते हैं, वो वायुमार्ग के जरिए ही शरीर के अंदर प्रवेश करती है।

अगर आपकी सांस भी फूलती है बार-बार तो न लें इसे हल्के में, हो सकती हैं जानलेवा बीमारियां

सांस फूलने की समस्या है क्यों है हानिकारक

अगर आप किसी प्रकार की शारिरक मेहनत नहीं करते हैं, इसके बावजूद आपको सांस फूलने की समस्या  होती है, तो ये काफी खतरनाक स्थिति है। अगर थोड़े से शारीरिक श्रम के बाद ही आपकी सांस फूलने लगती है, तो आपकी जीवनशैली बहुत ही आलस्यपूर्ण है।


क्या है सांस फूलने के कारण

    जिन लोगों के शरीर का वजन अधिक होता है, उन्हें सांस फूलने की समस्या होती है।
    लगातार शारीरिक श्रम करने से भी सांस फूलती है।
    शारीरिक कमजोरी और खून की कमी के कारण भी सांस लेने में दिक्कत होती है।
    नींद पूरी ना होना भी सांस फूलने का एक बड़ा कारण  है।
    अगर आप प्रदूषण युक्त स्थान पर रहते हैं तो सांस लेने में समस्या होती है।
    जो लोग अधिक स्मोकिंग करते हैं, उन्हें भी सांस से जुड़ी सम्सायएं होती हैं।

ये है सांस फूलने की समस्या का उपाय

यदि आपको कोई गंभीर रोग नहीं है, इसके बावजूद सांस फूलने की समस्या होती है तो आपको अपने जीवनशैली में सुधार की आवश्यकता है।

नियमित रूप से योग और वॉक करने से भी सांस फूलने की समस्या खत्म होती है। योग और वॉक से मांसपेशियां और फेफड़े मजबूत बनते हैं, इसलिए अपनी दिनचर्या में इसे जरूर शामिल करें।

स्वादिष्ट और संतुलित भोजन करें, इससे शरीर को अंदर से मजबूत मिलती है और श्वसनतंत्र भी ठीक रहता है।

Post a Comment

From around the web