पिछले 24 घंटे में देश में लोगों की जिंदगी में दी कोरोना ने दस्तक, अब तक कुल 1.80 लाख पॉजिटिव मामले

 
पिछले 24 घंटे में देश में लोगों की जिंदगी में दी कोरोना ने दस्तक, अब तक कुल 1.80 लाख पॉजिटिव मामले

हैल्थ न्यूज डेस्क।। कोरोना की रफ्तार भारत में बेकाबू होती जा रही है। पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के लगभग 1.80 लाख केस सामने आए हैं। कोरोना के मामले सबसे ज्यादा महाराष्ट्र में सामने आए हैं। पिछले 24 घंटे में महाराष्ट्र में 44,388 केस सामने आए हैं। वहीं कोरोना से देश में पिछले 24 घंटे में 146 लोगों की मौत हुई है। इसके अलावा केस सामने पश्चिम बंगाल में 24,287 केस, दिल्ली में 22,751, तमिलनाडु में 12,895 में, कर्नाटक में 12 हजार आए हैं। रविवार को कोरोना मामले में वहीं पीएम मोदी ने समीक्षा बैठक ली। कोरोना से लड़ने के लिए इसमें अधिकारियों को विशेष निर्देश दिएा गए।

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 146 लोगों की मौत हुई है। बता दें कि भारत में कोरोना महामारी से अब तक 4,83,936 की मौत हो चुकी है। भारत में रविवार को आए कोरोना के कुल केसों में से 64.72% नए केस महाराष्ट्र, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और कर्नाटक में मिले हैं। इसके अलावा पश्चिम बंगाल में कोरोना से 18 लोगों की मौत हुई। वहीं अकेले महाराष्ट्र में 24.7% केस मिले हैं। वहीं पिछले 24 घंटे में तो सबसे ज्यादा 44 मौतें केरल में हुईं। 

पिछले 24 घंटे में देश में लोगों की जिंदगी में दी कोरोना ने दस्तक, अब तक कुल 1.80 लाख पॉजिटिव मामले

पिछले 24 घंटे में एक्टिव केस में 1,33,008 मामलों का इजाफा हुआ है। वहीं वैक्सीनेशन की बात करें तो अब तक देश में 151 करोड़ कोरोना वैक्सीन डोज लगाई जा चुकी हैं। देश में रविवार को कोरोना के 46,569 मरीज ठीक हुए। अब तक 3,45,00,172 मरीज कोरोना से ठीक हो चुके हैं। वहीं देश में कोरोना के एक्टिव केस 7,23,619 हो गए हैं। 

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि समीक्षा बैठक के दौरान, पीएम मोदी ने जिला स्तर पर पर्याप्त स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे को सुनिश्चित करने की आवश्यकता पर जोर दियां साथ ही उन्होंने अधिकारियों से राज्यों से समन्वय बनाए रखने को कहा। वहीं पीएम मोदी ने रविवार को कोरोना की समीक्षा बैठक ली। साथ ही उन्होंने निर्देश दिए कि जिन जोन में ज्यादा कोरोना के मामले पाए जा रहे हैं वहां गहन नियंत्रण और सक्रिय निगरानी जारी रहनी चाहिए और वर्तमान में उच्च मामलों की रिपोर्ट करने वाले राज्यों को आवश्यक तकनीकी सहायता प्रदान की जानी चाहिए। किशोरों के लिए वैक्सीन अभियान को और तेज करने पर जोर दिया। इसमें पीएम ने देश में महामारी की स्थिति, स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे और लॉजिस्टिक को लेकर चल रही तैयारियों, देश में टीकाकरण अभियान की स्थिति और नए कोविड-19 वेरिएंट ओमिक्रॉन का आंकलन करने पर विशेष जोर दिया। 

Post a Comment

From around the web