Mexican covid म्यूटेशन दे रहा है खतरे का संकेत : शोधकर्ता

 
a

इतालवी शोधकतार्ओं ने एक नए कोरोनावायरस म्यूटेशन की पहचान की है, जिसका वैज्ञानिक नाम टी 478 के है। पिछले कुछ हफ्तों में मेक्सिको में ये तेजी से फैल रहा है और यूरोप में भी इसकी उपस्थिति दर्ज की गई है। बोलोग्ना विश्वविद्यालय के फार्मेसी और जैव प्रौद्योगिकी विभाग की टीम ने 27, 2021 अप्रैल तक ओपन-एक्सेस डेटाबेस जीआईएसएआईडी (ग्लोबल इनिशिएटिव ऑन शेयरिंग एवियन इन्फ्लुएंजा डेटा) से दस लाख से अधिक सार्स-कोव-2 जीनोम अनुक्रमों का विश्लेषण करने के बाद इस वेरिएंट की खोज की। इसके 11,435 नमूनों में टी478के का पता चला।

शोधकतार्ओं ने जर्नल ऑफ मेडिकल वायरोलॉजी में लिखा है, “हमने पाया है कि टी478के की उत्पत्ति और इसका प्रसार जनवरी, 2021 से हुआ है और ऐसा खासकर मेक्सिको व अमेरिका में होते देखा गया है। हालांकि कुछ यूरोपीय देशों में भी इसकी उपस्थिति दर्ज की गई है।”

इन्हीं शोधकर्ताओं के द्वारा 26 मार्च, 2021 तक जमा किए गए 820,000 से अधिक र्सास-कोव-2 जीनोमिक अनुक्रमों का विश्लेषण कर प्रीप्रिंट सर्वर बायोरेक्सिव पर अपलोड किया गया, जिसमें 4,214 नमूनों में टी478के म्यूटेशन का पता चला।

यह संख्या पिछले महज एक महीने में पेश किए गए इन्हीं संस्करणों के नमूनों की संख्या से दोगुनी है। शोधकर्ताओं का कहना है कि 2021 की शुरूआत से इस तरह की वृद्धि चिंताजनक है।

न्यूज सत्रोत आईएएनएस

Post a Comment

From around the web