कोरोना के बढते कहर में Diabetes मरीजों के लिए चमत्कार है ये चीज, आज ही Diet में करें शामिल

 
कोरोना के बढते कहर में Diabetes मरीजों के लिए चमत्कार है ये चीज, आज ही Diet में करें शामिल

हैल्थ न्यूज डेस्क।। 100 से अधिक रासायनिक यौगिकों वाली हल्दी को 'भारतीय केसर' या 'सुनहरा मसाला' भी कहा जाता है। भारतीय रसोई में हल्दी का इस्तेमाल व्यंजनों का स्वाद बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। वहीं, कई अध्ययन का मानना है कि हल्दी डायबिटीज मरीजों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। इसमें करक्यूमिन सक्रिय यौगिक होता है जो कई बीमारियों से लड़ने में सबसे अधिक मददगार है।  हर साल डायबिटीज दिवस 14 नवंबर को मनाया जाता है, लोगों को इस बीमारी के प्रति जागरूक करना जिसका मकसद है। चलिए इस मौके पर जानते हैं कि डायबिटीज मरीजों को हल्दी का प्रयाोग कैसे करना चाहिए...

हल्दी और दालचीनी
इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण शुगर कंट्रोल में रखेंगे। टाइप-2 डायबिटीज मरीजों के लिए भी इसका सेवन फायदेमंद है। 1 गिलास दूध में चुटकीभर हल्दी, थोड़ा-सा गुड़ और दालचीनी पाउडर उबालें। इसे नाश्ते से पहले पीएं। 

हल्दी और काली मिर्च
काली मिर्च में पिपेरिन तत्व होता है जो हल्दी के साथ मिलकर खून नली को साफ करता है। गर्म दूध में हल्दी, काली मिर्च पाउडर व शहद डालकर पीएं। इससे खून में शुगर लेवल नहीं बढ़ता।

बार-बार घटती बढ़ती Diabetes के लिए वरदारन है चीज, आज ही Blood Sugar को कंट्रोल करने के लिए डाइट में करें शामिल

हल्दी और आंवला
दोनों में में क्रोमियम भी होता है, जो कार्ब्स को पचाने में मदद करता है, जिससे ब्लड में शुगर कंट्रोल रहता है। आंवले में विटामिन-सी होता है, जो कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल रखता है। इसके लिए हल्दी और आंवला पाउडर को गुनगुने पानी में मिक्स करके पीएं।

हल्दी और अदरक
 वहीं, शुगर कंट्रोल करने के लिए आफ अदरक -हल्दी का काढ़ा या चाय बनाकर पी सकते हैं। सर्दियों में अदरक का सेवन फायदेमंद होता है क्योंकि इसकी तासीर गर्म होता है।

हल्दी की जड़ों का अर्क लें
हल्दी की जड़ के अर्क का सेवन इंसुलिन प्रतिरोध को कम करता है जिससे शुगर लेवल नहीं बढ़ता। यह सबसे आसान तरीकों में से एक है जिससे आप डायबिटीज को कंट्रोल कर सकते हैं।  यह बीटा कोशिकाओं के कार्य में भी सुधार करता है, जो मधुमेह के लिए फायदेमंद हैं।

Post a Comment

From around the web