आप भी अपने Lungs को Pollution से बचाने के लिए Diet में शामिल करें ये 7 Foods

 
आप भी अपने Lungs को Pollution से बचाने के लिए Diet में शामिल करें ये 7 Foods

हैल्थ न्यूज डेस्क।। जहरीली हवा सांस के जरिए हमारे शरीर में जाकर सिर्फ फेफड़े ही नहीं बल्कि सांस लेने में दिक्कत, दिल, किडनी व लिवर को भी नुकसान पहुंचाती है। प्रदूषण का स्तर रोजाना बढ़ता जा रहा है और उसी के साथ बीमारियां भी। ऐसे में प्रदूषण से बचने के लिए प्रीकॉशन लेना बहुत जरूरी है। लेकिन इसके साथ ही डाइट में कुछ ऐसे फूड्स लेने भी जरूरी है, जिससे बॉडी डिटॉक्स हो सके और आप प्रदूषण के कारण होने वाले नुकसान से बचे रहें। यहां हम आपको कुछ फूड्स के बारे में बताएंगे, जो प्रदूषण के कारण होने वाले नुकसान को कम करने में मदद करेंगे।

लहसुन
एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लामेट्री लहसुन फेफड़े, किडनी को डिटॉक्स करने के साथ बीमारियों का खतरा भी कम करता है।

अदरक
आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर अदरक भी प्रदूषण के कारण होने वाले नुकसान से बचाने में मददगार है। आप भोजन में अदरक डालने के साथ चाय बनाकर भी पी सकते हैं।

तुलसी की पत्तियां
रोजाना 2-3 तुलसी की पत्तियों को चबाएं। इससे फेफड़ों में जमा गंदगी आसानी से निकल जाएगी और आप कई बीमारियों से भी बचे रहेंगे।

नट्स और बीज
बीज, अखरोट, चिया के बीज, अलसी के बीज को दही में डालकर खाएं। आप इसकी स्मूदी बनाकर भी पी सकते हैं। इससे आप वायु प्रदूषण से होने वाले हानिकारक प्रभावों से बचे रहते हैं।

ओरिगेनो
ओरिगोनों में विटामिन और पोषक तत्व हिस्टामिन को कम करते हैं जिससे फेफड़ों के जरिए ऑक्सीजन का प्रवाह आसानी से होने लगता है। 

सर्दियों में शरीर को गर्म रखने के लिए रोज सुबह करें ये योगासन, मौसमी बीमारियों से होगा बचाव

गुड़
गुड़ प्रदूषण के साइड इफेक्ट को कम करने के साथ इम्यूनिटी पॉवर बढ़ाता है। इससे ना सिर्फ फेफड़े, किडनी डिटॉक्स होते हैं बल्कि आप सर्दियों में सर्दी-खांसी से भी बचे रहते हैं।

मुलेठी
मुलेठी के एंटी-इंफ्लेमेंटरी गुण प्रदूषण के साइड-इफैक्ट को घटाने के साथ फेफड़ों की इंफैक्शन को दूर करता है। मुलेठी चूसने से श्वसन तंत्र साफ होता है, जिससे खराब गला खराब, सासं लेने में परेशानी की समस्या दूर होती है।

अनार
एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर अनार भी फेफड़ों में फैले विषाक्त पदार्थों को आसानी से साफ कर देता है। इसके लिए रोजाना 1 कटोरी अनार के दानें खाएं या इसका जूस पीएं।

Post a Comment

From around the web