यूके ने Covid Vaccine के बीच अंतर को कम करने की योजना को खारिज किया

 
yg

जयपुर डेस्क !!! यूके सरकार ने कोविड टीकाकरण की दो खुराकों के बीच के अंतर को कम करने की योजना को खारिज कर दिया है। दूसरी ओर देश में डेल्टा वैरिएंट के मामले बढ़ रहे हैं। फाइनेंशियल टाइम्स ने बताया, टीकाकरण पर संयुक्त समिति ने तीन सप्ताह के अंतराल को खारिज कर दिया और ‘सभी उपलब्ध कोविड -19 टीकों की खुराक के बीच 8 से 12 सप्ताह के अंतराल’ की सिफारिश की।

सलाहकार निकाय ने कहा कि यह अंतर ‘भ्रम से बचने और बुकिंग को सरल बनाने में मदद करेगा, और तेजी से और लंबे समय तक चलने वाली सुरक्षा प्राप्त करने के बीच एक अच्छा संतुलन सुनिश्चित करने में मदद करेगा।’

पिछले हफ्ते, प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि यूके में 19 जुलाई से लॉकडाउन उपायों को कम करने की ‘बहुत संभावना’ है। डेल्टा संस्करण के प्रसार पर चिंता के बीच इसे 21 जून से चार सप्ताह आगे कर दिया गया था।

अखबार ने यूके टीकाकरण कार्यक्रम से परिचित लोगों का हवाला देते हुए कहा कि लॉकडाउन के उपायों में ढील चिंता का कारण हो सकता है क्योंकि देश दो-तिहाई वयस्कों को दो बार वैक्सीन सुनिश्चित करने के अपने लक्ष्य को पूरा नहीं कर पाया है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) के विशेषज्ञ और वैज्ञानिक चिंतित हैं क्योंकि देश में केवल 63 प्रतिशत लोगों को ही पूरी तरह से टीका लगाया गया है, जबकि 85 प्रतिशत से अधिक को केवल एक कोविड वैक्सीन की पहली खुराक मिली है। साथ ही नवीनतम आंकड़ों से पता चलता है कि कोविड -19 संक्रमण सप्ताह-दर-सप्ताह 74 प्रतिशत बढ़ गया है।

वारविक मेडिकल स्कूल के एक वायरोलॉजिस्ट प्रोफेसर लॉरेंस यंग ने कहा, “हमने संक्रमण, अस्पताल में भर्ती होने और मौतों के बीच की कड़ी को कमजोर कर दिया है, लेकिन डेल्टा संस्करण के संक्रमण में यह उल्लेखनीय वृद्धि गंभीर चिंता पैदा करती है।”

–आईएएनएस

Post a Comment

From around the web