बच्चे को जन्म देते ही परिवार से अलग रहने दूर चली जाती हैं इस देश की महिलाएं, जानें क्या है वजह

 
बच्चे को जन्म देते ही परिवार से अलग रहने दूर चली जाती हैं इस देश की महिलाएं, जानें क्या है वजह

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। जब घर में नन्हा मेहमान आता है तो परिवार और रिश्तेदार बड़ी खुशी से जश्न मनाते हैं। कई रस्में निभाई जाती हैं और ढेर सारी बधाइयां भी दी जाती हैं। बच्चे के जन्म पर पालन किए जाने वाले रीति-रिवाज क्षेत्र, धर्म, समुदाय और देश के अनुसार अलग-अलग होते हैं। हालांकि हमारे देश में बच्चे को किसी भी तरह के संक्रमण से बचाने के लिए 40 दिनों तक बाहरी लोगों से दूर रखा जाता है, वहीं एक देश ऐसा भी है जहां बच्चे के जन्म के बाद 30 दिनों तक मां को परिवार से दूर रहना पड़ता है। बच्चा आज हम आपको इन्हीं रस्मों के बारे में बताने जा रहे हैं।

चीन में मां को 30 दिन तक परिवार से दूर रहना पड़ता है

सबसे पहले बात करते हैं पड़ोसी देश चीन की। यहां बच्चे के जन्म को लेकर एक अजीबोगरीब परंपरा है। जब कोई महिला बच्चे को जन्म देती है तो उसे तीस दिन तक परिवार से दूर रहना पड़ता है। इसके पीछे का कारण यह हो सकता है कि शिशु को किसी तरह का संक्रमण न हो। इतना ही नहीं नहाने की भी मनाही है।

बच्चे की गर्भनाल को जापान में सुरक्षित रखा गया है

वहीं चीन के पड़ोसी देश जापान की परंपरा के अनुसार जब कोई महिला बच्चे को जन्म देती है तो परिवार के सदस्य बच्चे की गर्भनाल को लाख के बने डिब्बे में रखते हैं। बच्चा गर्भनाल के माध्यम से मां से जुड़ा होता है, इसलिए जन्म के बाद बच्चे की रक्षा करने की प्रथा है।

Mehandipur Temple: यहां आने से कांपते हैं भूत-प्रेत, की जाती है उनकी जोरदार पिटाई

इंडोनेशिया में तीन महीने तक बच्चे को जमीन छूने की इजाजत नहीं है

बाली, इंडोनेशिया में, जब एक बच्चा पैदा होता है, तो उसे तीन महीने तक जमीन को छूने की अनुमति नहीं होती है। तीन महीने तक मां बच्चे को गोद में रखती है। इसके पीछे मान्यता है कि ऐसा करने से बच्चा दूसरी दुनिया के संपर्क में रहता है।

नाइजीरिया में बच्चे की गर्भनाल को अशुभ माना जाता है

वहीं नाइजीरिया में बच्चे की गर्भनाल को अशुभ माना जाता है। दरअसल, अफ्रीकी देशों में इसे बच्चे का जुड़वा भाई माना जाता है। उसे पेड़ के नीचे दबा कर शोक मनाया जाता है।

Post a Comment

From around the web