क्या आप जानते है दुनिया की इन सबसे खतरनाक नशों के बारे में, एक बार किया शुरू तो नहीं छुटता जिंदगी भर

 
 क्या आप जानते है दुनिया की इन सबसे खतरनाक नशों के बारे में, एक बार किया शुरू तो नहीं छुटता जिंदगी भर

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। आपको आर्थिक, मानसिक, शारीरिक तौर पर नशा एक ऐसी चीज है जो काफी नुकसान पहुंचाता है. अपने शौक, दिखावे आदि के लिए अब युवा इनका इस्तेमाल कर रहे हैं. अक्सर शराब, सिगरेट या तंबाकू आदि का नाम पहले तो नशे के लिए आता था, लेकिन अब स्थिति एकदम अलग हो चुकी है. जो बहुत ज्यादा मानसिक तौर पर नुकसान पहुंचाते हैं और नशा भी बहुत ज्यादा होता है, अब नशे के इस गंदे बाजार में हेरोइन, कोकिन, एलएसडी जैसे कई तरह के नशे आ चुके हैं. उन स्ट्रीट ड्रग्स के बारे में ऐसे में जानते हैं, खतरनाक ड्रग्स में उन्हें गिना जाता है. तो शराब और सिगरेट के अलावा किस-किस तरह के नशे चलन में हैं आइए देखते हैं…

हेरोइन
यह एक तरह का पाउडर होता है, जिसे नाक, मुंह या स्मोक के जरिए लिया जाता है. यह काफी महंगा होता है और शरीर पर इसके काफी नुकसान होते हैं. हेराइन काफी लोकप्रिय नाम है, जिसे क्वीन ऑफ ड्रग्स भी कहा जाता है. इससे सेक्सुअल प्रॉब्लम्स से लेकर कई तरह की मानसिक दिक्कतें आती हैं और इसकी लत छुड़वाना काफी मुश्किल है.

कोकीन
कहा जाता है कि इससे इंसान के दिमाग की संरचना बदलने लगती है. यह भी काफी लोकप्रिय ड्रग है और इसके रसायन सीधे दिमाग पर असर डालते हैं जिससे आपकी याद रखने की क्षमता कम हो जाती है. 

गांजा
आपने ग्रास, कैनाबिस, वीड या गांजा का नाम सुना होगा, ये गांजे के ही प्रकार है. हालांकि, इसे लंबे समय तक लेने से आपको अवसाद और फेफड़े की बीमारी हो सकती है.

क्या आप जानते है दुनिया की इन सबसे खतरनाक नशों के बारे में, एक बार किया शुरू तो नहीं छुटता जिंदगी भर

एलएसडी
इसका असर सीधा दिमाग पर होता है. यह मुंह के जरिए ही लिया जाता है, लेकिन कुछ लोग इसे इंजेक्शन के जरिए भी लेते हैं. यह साइकेडेलिक ड्रग है. भारत में भी इसका चलन लगातार बढ़ रहा है और ये इतना खतरनाक होता है कि इसका नशा करीब 12 घंटे तक होता है. 

स्पीड बॉल
आपने शायद ही इसका नाम सुना होगा, लेकिन यह हेरोइन और कोकीन का घातक मेल होता है. इस ओवररडोज इंसान के मौत का कारण भी बनती है.

एमडीएमए
इसके अत्यधिक इस्तेमाल से इंसान का सेरोटोनिन सिस्टम बुरी तरह प्रभावित हो सकता है और कई दिनों तक लोग हताश और बैचेन रह सकते हैं. यह एक तरह से गोलियां होती हैं. एमडीएमए भी एक ऐसा ड्रग है जिसे हाफ साइकेडेलिक कहा जा सकता है.

केटामाइन
विदेश में कई पार्टियों में इसका इस्तेनमाल होता है. दुनिया में सबसे हानिकारक नशीले पदार्थ की लिस्ट में इस ड्रग का नाम है. 

क्रिस्टल मेथक्रिस्टल
इसे लेने से शरीर की ऊर्जा और गतिविधियां बढ़ती है. यह एक तरह से मेथेम्फेटामाईन है जो कि सीधा दिमाग पर असर करता है. 

Post a Comment

From around the web