700 साल से चली आ रही इस अद्भुत परंपरा के चलते घोंसलों में रहते हैं इस गांव के लोग

 
घोंसलों में रहते हैं इस गांव के लोग, 700 साल से चली आ रही है ये अद्भुत परंपरा

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। ईरान के कंडोवन गांव के लोग घोंसले जैसे घरों में रहते हैं। गांव और उसके लोग अपनी अनूठी परंपराओं के लिए विश्व प्रसिद्ध हैं। इस गांव के लोग पक्षियों की तरह घोसला बनाकर जीवन यापन करते हैं। आपको ये घर भले ही साधारण घर लगें, लेकिन इस घर की ख़ासियत जानकर आप हैरान रह जाएंगे.

यह घर सर्दियों में गर्म और गर्मियों में ठंडा रहता है। यह घर भले ही अजीब लगे, लेकिन इसमें रहना काफी आरामदायक है। गांव 700 साल पुराना है। यहां रहने वाले लोग न तो हीटर का इस्तेमाल करते हैं और न ही एसी का। यहाँ गर्मियों में ठंड और सर्दियों में गर्म होती है।

अब आप सोच रहे होंगे कि ये घर कैसे और क्यों बनाए गए। यहां रहने वाले लोगों के पूर्वजों ने मंगोल आक्रमण से बचने के लिए इन घरों का निर्माण कराया था। कांडोवन के शुरुआती निवासी आक्रमणकारी मंगोलों से बचने के लिए यहां आए थे। वे छिपने के लिए ज्वालामुखीय चट्टानों में छिप गए और वहीं उनका स्थायी ठिकाना बन गया। यह गांव अपने अनोखे घरों के लिए दुनिया भर में जाना जाता है।

Post a Comment

From around the web