गूगल भी इस महिला के आगे खा जाता है मात, देती हैं हर सवाल का धड़ाधड़ जवाब

 
गूगल भी इस महिला के आगे खा जाता है मात, देती हैं हर सवाल का धड़ाधड़ जवाब

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। मनुष्य को ईश्वर ने सबसे अच्छे जानवर के रूप में पहले ही बनाया है। ईश्वर ने हम मनुष्यों को सोचने, समझने और न्याय करने की क्षमता दी है। इन्हीं गुणों के कारण मनुष्य ने अनेक उपलब्धियाँ प्राप्त की हैं। वैसे तो सोचने और समझने की प्रक्रिया में हर किसी को थोड़ा समय जरूर लगता है लेकिन आज हम जिस महिला से आपको मिलवाने जा रहे हैं उसका दिमाग कंप्यूटर की गति से भी तेज है।

हम बात कर रहे हैं पंजाब के फतेहगढ़ साहिब जिले के मनीला गांव की रहने वाली एक साधारण जमींदार परिवार की 55 वर्षीय महिला कुलवंत कौर की, जो गूगल सर्च इंजन की तरह हर सवाल का जवाब देती हैं. इसी खूबी की वजह से लोग उन्हें गूगल बेब के नाम से बुलाते हैं। बेबी को इतिहास, भूगोल, उपनिषद, सभी साम्राज्यों के उदय और पतन, उनकी तिथियों का ज्ञान है।

उन्होंने भारत पर कब, किसने, कैसे और कैसे आक्रमण किया और शासन किया, इसके अलावा उन्हें यहूदी, ईसाई, इस्लाम, बोधि, हिंदू और सिख धर्मगुरुओं, उनके माता-पिता, उनके उपदेशों, लिखित भाषणों, उपदेशों आदि की भी जानकारी है।

गूगल भी इस महिला के आगे खा जाता है मात, देती हैं हर सवाल का धड़ाधड़ जवाब

बता दें कि उनके पिता प्रीतम सिंह का जन्म पाकिस्तान के लाहौर में हुआ था। वह इंजीनियर था और काम के सिलसिले में आगरा आया था। कुलवंत कौर का जन्म भी आगरा में हुआ था, जहां से उन्होंने चौथी कक्षा तक पढ़ाई की। लेकिन परिवार के दबाव के कारण वह आगे नहीं पढ़ पाई। गूगल बेब ने बताया कि जब वह बचपन में आगरा में रह रही थी तो कपड़ा व्यापारी राम लाल (डुग्गी वाले) उसके घर आता था और पिता के साथ घंटों बैठकर हर धर्म की बात करता था। वे सभी भाई-बहन पापा के पास बैठे थे और दग्गी वाले अंकल बातें कर रहे थे और सुन रहे थे। ये बातें उनके दिमाग में घर कर गईं।

गूगल बेब ने कहा कि अब तक वह हिस्ट्री ऑफ इंडिया, हिस्ट्री ऑफ पंजाब, डिस्कवरी ऑफ इंडिया, डिस्कवरी ऑफ पंजाब समेत कई किताबें पढ़ चुकी हैं। उनके घर में एक छोटी सी लाइब्रेरी भी है, जहां सारी किताबें रखी हुई हैं। वह उन्हें पढ़ना पसंद करती है

Post a Comment

From around the web