60 लाख से ज्यादा मुर्दों की दफन है इस जगह हड्डी और खोपड़ियां, देखने वालों के ठंड में छूट जाते है पसीने

 
60 लाख से ज्यादा मुर्दों की दफन है इस जगह हड्डी और खोपड़ियां, देखने वालों के ठंड में छूट जाते है पसीने

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। दुनिया में कई अनोखी और विदेशी जगहें हैं, जिनका अपना एक प्राचीन इतिहास है। पुरातत्त्वविद अभी भी साइट के स्थान के बारे में अंतिम निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले पर्याप्त सबूत इकट्ठा करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। ऐसी ही एक जगह है फ्रांस की राजधानी पेरिस में। जिसे क्रिप्ट ऑफ टॉब्स के नाम से जाना जाता है।

6 मिलियन से अधिक मानव खोपड़ी और हड्डियाँ हैं। इस जगह को देखकर कोई भी चीख सकता है। दरअसल, पेरिस में एक तहखाना है जिसे लोग फ्रेंच कैटाकॉम्ब कहते हैं। जमीन से 20 मीटर नीचे बने इस बेसमेंट में 60 लाख मृतकों की हड्डियां और खोपड़ियां हैं।

60 लाख से ज्यादा मुर्दों की दफन है इस जगह हड्डी और खोपड़ियां, देखने वालों के ठंड में छूट जाते है पसीने

इतना ही नहीं आग की मदद से आप वेल्डिंग भी कर सकते हैं। तहखाने के अंदर हड्डियों और खोपड़ियों से बनी दो किलोमीटर लंबी दीवार है। कहा जाता है कि सन् 1785 में कब्रिस्तान के अभाव में कई शवों को एक साथ एक गड्ढे में दफना दिया गया था। यह कालकोठरी बहुत डरावनी है, फिर भी दूर-दूर से लोग इस कालकोठरी में मौजूद हड्डियों और खोपड़ी की दीवार को देखने आते हैं।

आपको बता दें कि इस बेसमेंट को सबसे पहले 11 साल पहले यानी साल 2008 में जनता के लिए खोला गया था। तब से अब तक 40 लाख से ज्यादा लोगों ने इस तहखाने में हड्डियों और खोपड़ी की इस अद्भुत दीवार को देखा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस जगह का इस्तेमाल कुछ हॉलीवुड फिल्मों और फैशन शो के लिए भी किया गया है। कहा जाता है कि तहखाने की खोज के बाद यहां मौजूद कंकालों को इकट्ठा करने में करीब 10 साल लग गए।

Post a Comment

From around the web