सुपरमैन बना शख्स 1000 इंसानों और 50 घोड़ों को मात देकर जीता खिताब, 35 किमी. तक लगाई नॉनस्टॉप दौड़

 
सुपरमैन बना शख्स 1000 इंसानों और 50 घोड़ों को मात देकर जीता खिताब, 35 किमी. तक लगाई नॉनस्टॉप दौड़

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। अगर कोई आपसे पूछे कि अगर एक घोड़े और एक आदमी को एक साथ दौड़ा दिया जाए तो कौन जीतेगा? इस सवाल के जवाब पर आपको हंसी आएगी क्योंकि दौड़ने के मामले में इंसान घोड़े से कहां मुकाबला कर सकता है. वैसे एक शख्स है जो घुड़दौड़ में पिछड़ गया है और इस असंभव उपलब्धि के चलते चर्चा में है।

ब्रिटेन के रिकी लाइटफुट ने असंभव सा लगने वाला यह कारनामा कर दिखाया है। उन्होंने घोड़ों को पीछे छोड़ते हुए 35 किमी की रेस जीती है। इंसानों और घोड़ों के बीच यह अनोखी दौड़ यूके के वेल्स के ललनराइटिड वेल्स में हुई, जिसमें लाइटफुट ने अपनी जीत से भीड़ को दंग कर दिया।

15 साल बाद किसी ने घोड़े को मार डाला
रिकी लाइटफुट, 37, एक फायर फाइटर है और डरहम, कंब्रिया का निवासी है। इस अंग्रेज ने 35 किमी की दौड़ महज 2 घंटे 22 मिनट 23 सेकेंड में पूरी की। लेन हाउस बॉय और किम अलमन नाम की दो घुड़दौड़ उपविजेता बनीं। उसने उसी दौड़ को 2 घंटे 24 मिनट और 24 सेकंड में पूरा किया, जिसका अर्थ है कि वह पूरे 2 मिनट के लिए लाइटफुट के पीछे थी। पिछले 15 सालों से कोई भी इंसान इस रेस को नहीं जीत पाया है। 2007 में फ्लोरन होल्टिंगर नाम के एक व्यक्ति ने रेस जीती थी और अब लाइटफुट ने रेस जीत ली है।

मैन बनाम हॉर्स रेस 1980 से आयोजित की गई हैं
दौड़ पहली बार 1980 में शुरू की गई थी। फिर न्यूड आर्म्स पब में दो स्थानीय लोगों ने शर्त लगाई कि पुरुष दौड़ में घोड़ों को हरा सकते हैं। रेस पहली बार 2004 में होलाब नाम के एक शख्स ने 2 घंटे 5 मिनट में जीती थी। बता दें कि रिकी लाइटफुट ने जो रेस जीती उसमें कुल 1200 प्रतियोगियों ने हिस्सा लिया। वे सभी 60 घोड़ों के खिलाफ दौड़ रहे थे। यह घटना सुनने में तो बहुत ही मजेदार है, लेकिन इसे जीतना वाकई कमाल का है।

Post a Comment

From around the web