यहां पर उगा था दुनिया का सबसे पहला लौंग का पेड़,हजारों साल पुराना है इसका इतिहास,जानिए

 
यहां पर उगा था दुनिया का सबसे पहला लौंग का पेड़,हजारों साल पुराना है इसका इतिहास,जानिए

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।।  साधारण बात है कि लौंग का सबसे ज्यादा इस्तेमाल सब्जी के मसालों में उपयोग किया जाता है।लौंग के बारे में कहा जाता है कि ये मसाले ही नहीं बल्कि इंसान की सेहत के लिए भी फायदेमंद होती है। जानकारी के लिए बता दें कि इसकें अंदर एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटीबैक्‍टीरियल तत्‍व मौजुद रहते है जो आपको सेहतमंद बनाए रखते हैं।

यह हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ ही आपके स्‍कैल्‍प से डैंड्रफ भगाकर बालों की कंडिशनिंग में सहायता करता है। आज हम आपको सबसे पहला लौंग का पेड़ कहां पर उगा था और कब उगा था इसके बारे में बताने वाले है।एक रिपोर्ट के मुताबिक आज से करीब तीन हजार साल पहले लौंग का पेड पूर्वी एशिया के कुछ द्विपों में हुआ करता था बताया जाता हैकि इंडोनेशिया के टर्नैट द्विप पर दुनिया का सबसे पुराना लौंग का पेड़ है।इस द्विप पर ज्यादातर ज्वालामुखी है। यहां पर भाऱी तादात में लोग घुमने आते है। 3-4 हजार साल पहले टर्नेट, टिडोर और उसके आस-पास के कुछ द्वीपों पर लौंग के पेड़ पाए जाते थे।यहां पर उगा था दुनिया का सबसे पहला लौंग का पेड़,हजारों साल पुराना है इसका इतिहास,जानिएलौंग का कारोबार करके इन द्वीपों पर रहने लोग उस समय काफी अमीर हो गए थे। कहते है कि लौंग के व्यापार से सुल्तानों के पास भी काफी दौतल आ गई थी। सुल्तान इस व्यापार के लिए आपस में लड़ने लगेऔर आखिर में फायदा उठाकर अंग्रेज और डच कारोबारियों ने इन इलाकों पर अपना कब्जा कर लिया। इन द्वीपों पर कई तरह के जीव-जंतु भी पाए जाते हैं। यहां उड़ने वाले मेंढक भी पाए जाते हैं।

Post a Comment

From around the web