Underground Village: जमीन के नीचे बसी है एक अलग ही दुनिया, इस खूबसूरत गांव के घरों के आगे महल भी है फीके, देखकर रह जाएंगे दंग

 
जमीन के नीचे बसा है ये खूबसूरत गांव, किसी महल से कम नहीं है यहां के घर, देखकर रह जाएंगे दंग

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। आमतौर पर, जब भी किसी गांव का नाम आता है, तो हमारी आंखों के सामने जीर्ण-शीर्ण घरों और पक्की गलियों की तस्वीरें चमकती हैं। जहां धूल में बच्चे और जानवर नजर आते हैं, लेकिन हर गांव ऐसा नहीं होता। किसी भी गांव में ऐसे घर होते हैं जो किसी महलों से कम नहीं होते। आज हम आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे हैं जो वाकई में बेहद खूबसूरत है। इतना ही नहीं इस गांव की एक और खास बात यह है कि यह भूमिगत स्थित है। यह गांव ऑस्ट्रेलिया में है, जिसका नाम कूबेर पेडी है।

कुबेर पेडी गांव भूमिगत है

ऑस्ट्रेलिया के कूबेर पेडी गांव को भूमिगत बनाया गया है। यह गांव बेहद खूबसूरत है यहां का घर किसी महल से कम नहीं है। आपको बता दें कि 'दक्षिण ऑस्ट्रेलिया' में स्थित 'कूबर पेडी' नाम के इस गांव को 'दुनिया की ओपल राजधानी' भी कहा जाता है, क्योंकि यहां दुनिया में सबसे ज्यादा खदानें हैं, जो करीब ढाई साल की होंगी। लाख। .

Underground Village: जमीन के नीचे बसी है एक अलग ही दुनिया, इस खूबसूरत गांव के घरों के आगे महल भी है फीके, देखकर रह जाएंगे दंग

क्या है यहां की खदानों की कहानी

आपको बता दें कि 'ओपल' नाम के कीमती पत्थर को खोजने के लिए यहां साल 1915 में खदान बनाने का काम शुरू किया गया था। इस जगह की रेतीली प्रकृति के कारण यहाँ का तापमान गर्मियों में बहुत अधिक और सर्दियों में बहुत कम रहता है। जिससे यहां काम करने वाले लोगों को रहन-सहन में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। उस समय लोगों ने यहां रहने के लिए एक हथकंडा अपनाया था। हुआ यूं कि यहां काम करने के बाद लोग बनी खदानों में रहने लगे। तब से लोगों ने इसे अपना घर बना लिया है। अब यहां साढ़े तीन हजार से ज्यादा लोग रहते हैं।

घर होटलों की तरह दिखते हैं

आपको बता दें कि कूबेर पेडी गांव में इन घरों को देखकर ऐसा लगता है कि आप किसी होटल में ठहरे हैं। यहां के घरों में तीन बेडरूम, लिविंग रूम और किचन भी है। गांव में एक भूमिगत चर्च भी स्थित है।

Underground Village: जमीन के नीचे बसी है एक अलग ही दुनिया, इस खूबसूरत गांव के घरों के आगे महल भी है फीके, देखकर रह जाएंगे दंग

बीयर बार सहित सभी दुकानें मौजूद हैं

इस गांव में आपको बीयर बार समेत सैकड़ों दुकानें मिल जाएंगी। जिसमें 'आभूषण की दुकानें' शामिल हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि चारों तरफ से रेगिस्तान से घिरे होने के बावजूद इन घरों का तापमान हमेशा सामान्य रहता है। गर्मियों में अधिकतम तापमान 27 डिग्री और सर्दियों में न्यूनतम 14 डिग्री तक सीमित रहता है। 1921 से यहां लगभग 18 से 20 मिलीमीटर की मौसमी वर्षा का अनुमान है। लेकिन 10 अप्रैल 2014 को यहां की खदानों में एक ही दिन में 115 मिमी बारिश से पानी भर गया।

लोग यहां रात में गोल्फ खेलने आते हैं

इतना ही नहीं, लोग यहां 'गोल्फ' खेलने के लिए भी आते हैं, रेगिस्तान की जगह का पूरा फायदा उठाते हुए, और वह भी रात में, क्योंकि दिन में बाहर बहुत गर्मी होती है। इसलिए गोल्फ रात में चमकती गेंदों से खेला जाता है। गोल्फ खेलने के लिए यहां 'द रॉयल एंड एन्सिएंट गोल्फ क्लब ऑफ एंड्रयूज' नाम का एक क्लब भी स्थापित किया गया है।

Post a Comment

From around the web