जब शख्स ने खरीदी सेकेंड हैंड अलमारी, तो खोले ही रह गया हैरान, पुलिस की पड़ी मदद लेनी

 
जब शख्स ने खरीदी सेकेंड हैंड अलमारी, तो खोले ही रह गया हैरान, पुलिस की पड़ी मदद लेनी

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। कब किसी व्यक्ति की किस्मत खुल जाए यह किसी को पता नहीं होता है। लेकिन कभी-कभी रातों रात लोगों की किस्मत चमक जाती है। ऐसा ही एक शख्स के साथ हुआ जो रातों रात करोड़पति बन गया। यह शख्स एक सेकेंड हैंड अलमारी खरीदकर अपने घर लाया। अलमारी में उसने एक ऐसी चीज देखी जिसे देखने के बाद उसके कान खड़ हो गए।

अगर हम अपने घर कोई अलमारी खरीद कर लाते हैं और उसमें कोई ऐसी चीज मिल जाती है जिसके बारे में हमने कभी सोचा भी नहीं हो। तो जाहिर सी बात है कि हम हैरान हो जाएंगे। जर्मनी में रहने वाले इस शख्स के साथ भी ऐसा ही हुआ है। शख्स ने जो सेकेंड हैंड अलमारी खरीदा था उसमें उसको एक करोड़ से ज्यादा रुपये मिले। इस शख्स ने ऑनलाइन साइट से इस अलमारी को खरीदा था। आइए जानते हैं कि आखिर पूरा मामला क्या है?

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस शख्स का नाम थॉमस हेलर है जो जर्मनी के बिटरफिल्ड का रहने वाला है। थॉमस ने अपने किचन में सामान रखने के लिए इस सेकेंड हैंड अलमारी को 19 हजार रुपये में खरीदा था। इसके बाद थॉमस ने जब अलमारी को घर लेकर पहुंचा और उसको खोला तो वो हैरत में पड़ गया। अलमारी के कैबिनेट में उसने दो बॉक्स देखा जिसे खोला तो उसमें एक करोड़ 19 लाख रुपए कैश पड़े थे।

जब शख्स ने खरीदी सेकेंड हैंड अलमारी, तो खोले ही रह गया हैरान, पुलिस की पड़ी मदद लेनी

लेकिन थॉमस ने इमानदारी दिखाई और पैसों को पुलिस को देने का फैसला लिया। थॉमस ने बताया कि उनकी इच्छा था कि अलमारी में मिले पैसे उसके मालिक को मिल जाएं। पुलिस ने इन पैसों की जांच की तो पता चला कि यह एक 91 साल की बुजुर्ग महिला के हैं जो जर्मनी के ही हाले शहर में रहती हैं। अलमारी की पहली मालकिन भी वही थीं। इस अलमारी को महिला के पोते ने बेचा था और उसे पता नहीं था बुजुर्ग महिला ने इसमें इतना कैश रखा हुआ है।

जर्मनी में खोए पैसों का रखना है जुर्म

जर्मनी में हजार रुपये से अधिक खोए पैसों को अपने पास रखना जुर्म है। अगर इसका कोई दोषी मिलता है, तो उसे तीन साल की सजा हो सकती है। लेकिन एक कानून भी है कि अगर कोई इन पैसों को ईमानदारी से वापस कर देता है, तो उसे इनाम दिया जाता है। इसलिए थॉमस को कुल धनराशि का तीन फीसदी हिस्सा इनाम के तौर पर दिया गया और उसे साढ़े तीन लाख रुपये मिले।

Post a Comment

From around the web