भक्त ने भेंट की तिरुपति बालाजी को 1 करोड़ की तलवार, जानिए इस मंदिर की खासियत

 
s

लाइफस्टाइल डेस्क, जयपुर।।इस बात से हम सभी अच्छे से वाकिफ है कि भक्तों का अपने भगवान में अटूट विश्वास होता है. यही वजह है कि भक्त भगवान को खुश करने के लिए चढ़ावा चढ़ाते हैं. हाल ही में हैदराबाद के एक श्रद्धालु ने बीते दिन तिरुपति के पास तिरुमला पहाड़ी मंदिर में भगवान वेंकटेश्वर को दो किलो सोने और तीन किलो चांदी से बनी तलवार अर्पित की. मंदिर के एक अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि कारोबारी श्रद्धालु ने भगवान को सूर्यकटारी भेंट की है. अब ये खबर देशभर में सुर्खियां बटोर रही है.

तिरुपति मंदिर के अधिकारी ने बताया कि तिरुमला-तिरुपति देवस्थानम के अतिरिक्त कार्यकारी अधिकारी ए वेंकट धर्म रेड्डी ने यह तलवार हासिल की. सोने और चांदी से बनी इस तलवार की कीमत एक करोड़ रुपए है. मंदिर के अधिकारियों अनुसार, तलवार का वजन पांच किलो है जो दो किलो सोने और तीन किलो चांदी से तैयार की गई है. श्री वेंकटेश्वर मंदिर आंध्र प्रदेश के चित्तूर में स्थित तिरुमाला की पहाड़ियों पर बना है.

श्रीनिवास दंपति ने तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) अधिकारियों को सोने की तलवार खुद सौंपी. श्रीनिवास दंपति ने रविवार को तिरुमाला के कलेक्टिव गेस्ट हाउस में मीडिया के सामने इस तलवार का प्रदर्शन किया. एक रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि श्रीनिवास दंपति पिछले एक साल से तलवार सौंपना चाहते थे, लेकिन कोरोना की वजह से उन्हें देरी हो गई. लेकिन आखिर में ये तलवार उन्होंने मंदिर को दे दी.

वेंकटेश्वर स्वामी की चरणों में सोने की तलवार सौंपने वाले श्रीनिवास ने कहा कि मैं पिछले एक साल से सोने की तलवार ‘सूर्य कटारी’ को भेंट देना चाहता था, लेकिन कोरोना महामारी और लॉकडाउन के असर की वजह से मंदिर बंद था. श्रीनिवास दंपति ने तमिलनाडु के कोयंबटूर में ज्वैलर्स से इसे बनावाया है. इसको बनाने में तकरीबन 6 महीने का वक्त लगा. आपको बता दें कि तिरुपति श्रीवेंकटेश्वर मंदिर भारत का दूसरा सबसे अमीर मंदिर है, जहा हर साल करोड़ों का चढ़ावा चढ़ता है.

Post a Comment

From around the web