क्या आप जानते हैं तिहाड़ जेल में रही थी दुनिया की सबसे खूबसूरत महारानी गायत्री देवी, जानिए क्या थी जेल जाने की वजह?

 
क्या आप जानते हैं तिहाड़ जेल में रही थी दुनिया की सबसे खूबसूरत महारानी गायत्री देवी, जानिए क्या थी जेल जाने की वजह?

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। साल 1975 में पत्रिका ने दुनिया की 10 सबसे खूबसूरत महिलाओं की सूची में जयपुर की महारानी गायत्री देवी को शामिल किया था। बेहद ही सुंदर थी महारानी गायत्री देवी । लोकसभा चुनाव भी जीता था महारानी गायत्री देवी ने और यह समाज सेवा के लिए भी जानी जाती थी। प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने इमरजेंसी के दौरान गिरफ्तार करवा कर दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद कर दिया। दुनिया की इतनी खूबसूरत महारानी को किस वजह से जेल जाना पड़ा था आइए हम आपको बताते हैं।

यह इतनी खूबसूरत थी कि विदेशी मेगजींस में भी इनका जिक्र होता था। अगर बात करें महारानी गायत्री देवी की निजी जिंदगी की तो आपको बता दें कि गायत्री देवी बिहार की महाराजा की बेटी थी।  गायत्री देवी बहुत ही सुंदर थी। देश-विदेश में गायत्री देवी की सुंदरता का चर्चे होते थे। महारानी गायत्री देवी जयपुर के महाराजा मानसिंह से शादी की थी। उस दौर में भी सुंदर होने के साथ-साथ गायत्री देवी बेहद ज्यादा स्टाइलिश भी थी। आपको बता दें कि महाराजा मानसिंह की गायत्री देवी तीसरी पत्नी थी। 

वही जब गायत्री देवी स्वतंत्र पार्टी में शामिल हुई तब यह सभी को हैरान कर देने वाली बात थी। तभी खबर बहुत ही चर्चा में आया था कि गायत्री देवी से तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के बीच बहुत ही दुश्मनी बढ़ गई थी। इंदिरा गांधी उस वक्त चाहती थी कि उनकी दल में यानी कि कांग्रेस में गायत्री देवी  शामिल हो। लेकिन इन्होंने स्वतंत्र पार्टी की टिकट पर 1962 में लोकसभा चुनाव लड़ा। आपको बता दे इस जीत को दुनिया का सबसे बड़ा जीत बताया गया है। इतने व्होट्स तो देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू जी को भी नहीं मिले थे। 2,46,5 15 व्होट्स में से 192909 मे मिले थे। यह उस वक्त की काफी बड़ी जीत। 
क्या आप जानते हैं तिहाड़ जेल में रही थी दुनिया की सबसे खूबसूरत महारानी गायत्री देवी, जानिए क्या थी जेल जाने की वजह?

कहा जाता है कि महारानी मुंबई गई हुई थी उनकी गिरफ्तारी होने की खबर मिली। फिर भी यह दिल्ली आ गई शाम को घर पर इनकम टैक्स अधिकारी पहुंचे और उनके सौतेले बेटे भवानी सिंह को गिरफ्तार कर लिया इस दौरान बेटे की गिरफ्तारी का विरोध किया था गायत्री देवी ने। एक बार सांसद मेनका गांधी पर इनकी टिप्पणियों का जिक्र खुशवंत सिंह ने किया था। जिसके बाद इंदिरा गांधी ने इमरजेंसी का मौका देखकर गायत्री देवी को तिहाड़ जेल भेज दिया था। 

उस समय नियर टाइम्स ने सरकार के हवाले से यह छापा था कि 17 मिलियन डॉलर का सोना हीरे महारानी के खजाने में मिले हैं। इंदिरा गांधी ने तो गायत्री देवी के पीछे इनकम टैक्स ऑफिसर भी छोड़ दिए थे। लेकिन इस बात पर महारानी गायत्री देवी का कहना था कि वह सरकार को सारा हिसाब पहले ही दे चुकी थी। हालांकि इसी बीच इमरजेंसी लग गई थी। 

उन्होंने अपनी जिंदगी से जुड़ी यह बात अपनी ऑटोबायोग्राफी प्रिंसेस रिमेंबर्स में बताया है। उन्होंने लिखा है कि “Tihar Jail was a fish market filled with pity thieves and prostitutes can screaming”। भारत की सबसे खूबसूरत महारानी गायत्री देवी ने तिहाड़ जेल में साढ़े माह बिताए थे।  कहा जाता है कि माउंटबेटन ने भी उनके लिए इंदिरा गांधी से बात की थी जिसके बाद इन्हें बाहर आने दिया गया। जिस दौरान रानी गायत्री देवी जेल में बंद थी उस वक्त वहां पर एक महिला का डिलीवरी तो बाथरूम में ही करवा दिया गया था। वहीं जनवरी 1976 में पैरोल पर किसी ऑपरेशन के लिए वह बाहर आ सकी । 

Post a Comment

From around the web