Rajasthan की इन Places पर रात के समय होता है Ghosts का राज, जाने से पहले जान लें इनके बारे में

 
Rajasthan की इन Places पर रात के समय होता है Ghosts का राज, जाने से पहले जान लें इनके बारे में

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। खूबसूरत जगहों की राजस्थान में जैसे कमी नहीं है, यहां भूतिया जगहों की भी उसी तरह से कमी नहीं है। कई डरावने किस्से और भूतों की कहानियों को ये जगह समेटे हुए है। राजस्थान की सबसे डरावनी और भूतिया जगहों के बारे में आज हम आपको बताने वाले हैं, पर्यटकों की जहां जाने पर रूह कांप उठती है और आप यहां जाने के बारे में रात को तो बिल्कुल भी मत सोचियेगा।

राजस्थान का भानगढ़ का किला
राजस्थान ही नहीं बल्कि पूरे भारत की सबसे कुख्यात भुतहा जगह के रूप में अलवर के भानगढ़ का किला जाना जाता है. महाराजा माधो सिंह द्वारा इसे 17वीं शताब्दी में बनवाया गया था. डरावनी आत्माओं का इस किले में वास माना जाता है. एक रहस्यमयी घटना इस जगह के भुतहा होने के पीछे जुड़ी हुई है. यहां एक तांत्रिक किसी समय रहता था. वह भानगढ़ की राजकुमारी रत्नावती की सुन्दरता पर मोहित हो गया. उसने काले जादू का राजकुमारी को अपना बनाने के लिए सहारा लिया, लेकिन वह असफल हुआ. राजा को इस बात का पता चलने पर उसे मौत के घाट उतार दिया गया. मरते-मरते तांत्रिक भानगढ़ रियासत को श्राप दे गया, कि यहां के रहने वाले लोगों की आत्माओं को कभी मुक्ति नहीं मिलेगी. उस दिन से इस शहर के उजड़ने की कहानी शुरू हुई, जो शहर के पूरी तरह खत्म होने पर ही रुकी. रात होते ही यह किला बंद कर दिया जाता है. अंधेरे में यहां की फिज़ाओं में डर का वर्चस्व चारों तरफ़ अपनी मौजुदगी दिखा रहा होता है. आज यहां इमारतों के केवल खंडहर बचे हैं. रात हो जाने पर यहां केवल भूतों का राज रहता है. इस वजह से इस किले में पर्यटकों को रात में जाने की इजाज़त नहीं दी जाती है. 

राजस्थान का कुलधरा गांव

पिछले 170 सालों से यह गांव भुतहा होने की वजह से वीरान पड़ा है. अपनी बेटियों को यहां के बाशिन्दों ने एक अय्यास दीवान से बचाने के लिए इस गांव को खाली कर दिया था. जाते-जाते वो श्राप दे गये, कि यहां अब कोई नहीं बस पायेगा. उस दिन से लेकर आजतक यह गांव वीरान पड़ा है. स्थानीय प्रशासन ने इस गांव की सरहद पर एक गेट लगा दिया है. रात होने के बाद वहां जाने की हिम्मत कोई नहीं कर पाता है. गांव वालों के द्वारा बिताये गये उनकी ज़िन्दगी के पल आज भी यहां की वीरान गलियों में जीवन्त हो उठते हैं. यहां घुमने आने वाले पर्यटकों को महिलाओं के बात करने, उनकी चूड़ियों के खनकने की आवाज़ें आती हैं. 

राजस्थान की इन जगहों पर रात के समय पहरा देते भूत प्रेत, जाने से पहले जान लें इनके बारे में

राजस्थान का नाहरगढ़ किला 

इस किले को सवाई राजा मान सिंह ने बनवाया था। इस किले को उन्होंने अपनी बेटियों के लिए बनवाया था, लेकिन उनकी मृत्यु होने के बाद ही ये किला भूतिया कहा जाने लगा। 
नाहरगढ़ किला राजस्थान की राजधानी जयपुर के पास अरावली पहाड़ियों के किनारे स्थित है। ये पीले रंग का जयपुर में बेहद आकर्षक लगता है। लेकिन इस किले को राजस्थान की भूतिया जगहों में लिया जाता है। ऐसा कहा जाता है कि इस किले में राजा का भूत है।

राजस्थान की राणा कुम्भ महल 
राजस्थान में एक प्रेतवाधित किला, इस स्थान को राज्य की सबसे डरावनी जगहों में से एक माना जाता है। गुप्त कक्ष और यहां की महिलाओं की चीखें, आपको बेहद खौफ में डाल सकती हैं। चित्तौड़गढ़ का राणा कुंभा पैलेस एक ऐसी जगह है जहां आपकी मुलाकात भूत से हो सकती है। आपको बता दें, दिल्ली के सुल्तान, अलाउद्दीन खिलजी ने इस महल पर हमला कर दिया था और खुद को खिलजी से बचने के लिए रानी पद्मिनी ने 700 महिला अनुयायियों के साथ आत्मदाह कर लिया। तभी से यहां इस तरह की घटनाएं देखी जाती हैं। इस किले के बारे में ऐसा कहा जाता है कि यहां रानी पद्मावती ने अपनी रानियों के साथ मिलकर जौहर कर लिया था। 

राजस्थान का अजेमेर-उदयपुर हाइवे
जब बाल विवाह प्रचलित था तब एक 5 साल की एक लड़की की शादी 3 साल के लड़के से होनी थी, लेकिन मां इस रिश्ते से खुश नहीं थी और वो मदद मांगने के लिए हाइवे की और चली गई, लेकिन तेज रफ़्तार गाड़ी ने मां और बेटी दोनों को टक्कर मार दी और उन दोनों की वही मौत हो गई। कई लोगों का कहना है कि इस रास्ते एक औरत दिखाई देती है, जो दुल्हन का लाल जोड़ा पहने होती है। अजमेर उदयपुर हाइवे को खून का रास्ता भी कहते हैं। कई भूतिया गतिविधियों का इस रास्ते से गुजरने वाले लोगो ने यहां अनुभव किया है। 

Post a Comment

From around the web