इन Pakistani Womans के Dil को भा जाये गैर मर्द, तो Immediately तोड देती है अपनी Old Marriage

 
इन Pakistani Womans के Dil को भा जाये गैर मर्द, तो Immediately तोड देती है अपनी Old Marriage

ट्रेवल न्यूज डेस्क।। अफगानिस्तान के बॉर्डर पर पाकिस्तान के खैबर-पख्तूनख्वा इलाके की चित्राल घाटी में बिरीर, बाम्बुराते और रामबुर इलाके हैं. कलाशा नामक जनजाति इन्हीं इलाकों में निवास करती है. पाकिस्तान के कल्चर से इस जनजाति का कल्चर एकदम अलग है. 4 हजार के आस-पास कलाशा जनजाति की आबादी है. जितने आजाद तरीके से इस जनजाति की महिलाएं रहती हैं आप हैरत में पड़ जाएंगे उन्हें जानकर.

इस समुदाय के लोग हिंदू कुश पहाड़ों से घिरे इलाके में रहते हैं. कलाशा जनजाति का नाम पाकिस्तान के सबसे कम संख्या वाले अल्पसंख्यकों में आता है. अगर किसी भी इस समुदाय की महिला को कोई गैर मर्द पसंद आ जाता है तो वह उस मर्द से अपनी शादी तोड़कर शादी कर लेती हैं. हिंदू कुश पर्वत श्रृंखला से घिरा होने के कारण इस समुदाय का मानना है कि  उसकी सभ्यता सुरक्षित है.

कई ऐतिहासिक संदर्भ हिंदू कुश पर्वत के हैं. इसका अर्थ यूनानी भाषा में हिंदुस्तानी पर्वत होता है.  इस समुदाय के लोगों को इसलिए सिकंदर का वंशज भी कहा जाता है.  इस समुदाय की महिलाएं पुरुषों के साथ बैठकर किसी भी त्यौहार या आयोजन पर शराब पीती हैं. इस समुदाय के लोग यहां लकड़ी और मिट्टी से बने छोटे घरों में रहते हैं.

अगर पसंद आ गया दुसरा मर्द तो शादी तोड देती है इस जगह की महिलाएं, जानिए इस प्रथा के पिछे की वजह

कमाई के ज्यादातर काम इस समुदाय में औरतों ने ही संभाल रखे हैं. भेड़-बकरियों को चराने समुदाय की औरतेंपहाड़ों पर जाती हैं. घर पर इसके अलावा रंगीन मालाएं और पर्स बनाती हैं. अपने सिर पर खास किस्म की टोपी तथा गले में पत्थर की रंगीन मालाएं पहनती हैं महिलाएं सजने-संवरने की बहुत शौकीन होती हैं .

पाकिस्तान के बहुसंख्यकों के डर से यहां के लोग अपने पारंपरिक अस्त्र का उपयोग करते हैं. हर तरह के आयोजन पर यहां के लोग संगीत पसंद करते हैं. इस समयुद के लोगों के तीन मुख्य त्यौहार Camos, Joshi और Uchaw हैं. Camos को ये अपना सबसे बड़ा त्यौहार मानते हैं. यह दिसंबर महीने में मनाया जाता है. अपने त्यौहारों में ये बांसुरी और ड्रम बजाते हैं तथा नाचते-गाते हैं. इसके अलावा अत्याधुनिक बंदूक भी अपने पास रखते हैं.

इस समुदाय के लोगों में संबंधों को लेकर इतना ज्यादा खुलापन है कि यदि विवाहित महिलाओं को कोई दूसरा मर्द पसंद आ जाए तो वह अपनी शादी तोड़कर उसके साथ रहने चली जाती हैं.जब इस समुदाय की महिलाएं और लड़कियां अपने लिए मर्द तलाश करती हैं Camos का त्यौहार ही ऐसा मौका होता है. यह त्यौहार अविवाहित लड़कियों के लिए तो खास होता ही है. इसके अलावा विवाहित महिलाओं के लिए भी बहुत खास होता है.

Post a Comment

From around the web