जापान में राजकुमारी ने मुहब्बत के लिए छोड़ा राजघराना, आम नागरिक से कर रहीं हैं शादी…

 
s

लाइफस्टाइल डेस्क, जयपुर।। जापान की राजकुमारी माको राजवंश से बाहर एक आम नागरिक के साथ विवाह करने जा रही हैं. अपने प्रेमी के लिए माको 7 बार विवाह प्रस्तावों को ठुकरा चुकी है. उन्हें शाही परिवार की तरफ से लगभग 9.10 करोड़ रुपये (13.70 करोड़ येन) का हर्जाना मिलना था. माको ने हर्जाना लेने से भी मना कर दिया है. 29 वर्षीय राजकुमारी माको जापान के मौजूदा राजा नारूहितो के भाई राजकुमार आकिशिनो की पुत्री हैं. उन्होंने अपने प्रेमी कोमुरो से शादी करने का निर्णय लिया है.

विवाह के बाद वे अमेरिका में बसने का प्लान बना रही हैं. यह शादी कब होगी, यह अभी स्पष्ट नहीं हुआ है. हालांकि, शाही परिवार भी इस विवाह के लिए राजी हो गए हैं. राजकुमारी माको के प्रेमी कोमुरो अमेरिका में कानून की पढ़ाई कर रहे हैं. कोमुरो को लेकर बताया गया है कि उन्हें स्कीईंग करना, वायलिन बजाना और कुकिंग करना पसंद हैं. समुद्र तटों पर टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए वह बतौर 'प्रिंस ऑफ द सी' के रूप में काम करते हैं. माको ने कहा कि हमारे लिए दिलों के सम्मान और जिंदगी जीने के लिए शादी एक जरुरी विकल्प है. उन्होंने कहा कि, 'हम दोनों एक दूसरे से अलग नहीं रह सकते हैं और बुरे वक़्त में एक दूसरे का सहारा बन सकते हैं.' 

राजकुमारी माको को लेकर बताया गया है कि उनके प्रेमी केई कोमुरो ने दिसंबर 2013 में एक डिनर के दौरान उनके सामने शादी का प्रस्ताव रखा था. दोनों ने अपने प्यार को काफी समय तक दुनिया से छिपाकर रखा. फिर राजकुमारी ब्रिटेन में पढ़ाई करने चली गई. वर्ष 2017 में माको ने एलान किया कि वह नवंबर 2018 में विवाह करने वाली हैं, किन्तु इस महीने उन्होंने विवाह को 2020 तक के लिए स्थगित कर दिया गया. माको अपने प्रेमी कोमुरो से इतना प्यार करती हैं कि उन्होंने इससे पहले अपने लिए आए विवाह के 7 प्रस्तावों को ठुकरा दिया. बता दें कि राजुकमारी माको की बुआ राजुकमारी सयाको राजघराने की अंतिम सदस्य थीं, जिन्होंने 'राजकुमारी' की पदवी को लौटाया था. वर्ष 2005 में राजुकमारी सयाको ने राजधानी टोक्यो के एक अधिकारी संग शादी की थी. दोनों एक दूसरे के साथ पढ़ते थे, इस दौरान दोनों करीब आए और विवाह के बंधन में बंध गए. बता दें कि जापानी राजवंश में सिर्फ पुरुष ही गद्दी के उत्तराधिकारी होते हैं. इस नाते राजकुमारी माको के छोटे भाई राजकुमार हिसाहितो (14) इस समय अपने पिता आकिशिनो के अलावा गद्दी के एकमात्र दावेदार हैं. जापान के शाही नियमों के मुताबिक, राजवंश से बाहर शादी करने वाली शाही महिलाओं के पुत्रों को गद्दी का उत्तराधिकारी नहीं माना जाता है.

Post a Comment

From around the web