भारत में ऑक्सीजन की कमी से निपटने में मदद के लिए आगे आई Oppo and vivo

 
भारत में ऑक्सीजन की कमी से निपटने में मदद के लिए आगे आई Oppo and vivo

स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी ओप्पो और वीवो ने भारत में चल रही ऑक्सीजन की कमी से निपटने के लिए अपना समर्थन देने की बात कही है। वीवो इंडिया ने देश में ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए 2 करोड़ रुपये के दान की घोषणा की।

वीवो इंडिया में ब्रांड रणनीति मामलों के निदेशक निपुण मारिया ने कहा कि हम सभी एक साथ मिलकर काम कर रहे हैं और हमें कोविड-19 को हराने के लिए एक इकाई के रूप में लड़ना चाहिए। वीवो इस परीक्षा की घड़ी में समुदायों को समर्थन देने के लिए प्रतिबद्ध है।

निपुण ने कहा कि उनके इस छोटे से योगदान से कई लोगों की जान बचाई जा सकेगी।

वीवो ने इससे पहले 2020 में महामारी से लड़ने में मदद करने के लिए राज्य और केंद्र सरकार की एजेंसियों को 9 लाख मास्क, 15,000 पीपीई सूट और 50,000 लीटर सैनिटाइजर दान के तौर पर दिया था।

वहीं ओप्पो इंडिया ने कोविड के खिलाफ लड़ाई में मदद करने के लिए भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी और उत्तर प्रदेश सरकार को 4.3 करोड़ रुपये की लागत से 1,000 ऑक्सीजनेटर और 500 ब्रीदिंग (सांस लेने की) मशीन दान करने का संकल्प लिया है।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि ये मशीनें उन अस्पतालों में पहुंचाई जाएंगी, जहां जरूरत सबसे ज्यादा है।

स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी दिल्ली पुलिस और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के फ्रंट-लाइन योद्धाओं को 1.5 करोड़ रुपये की ओप्पो बैंड स्टाइल की 5,000 यूनिट्स भी दान कर रही है, ताकि उन्हें दूसरों की सेवा करने में मदद मिल सके।

कंपनी ने एक बयान में लोगों को जागरूक करते हुए सभी सुरक्षा उपायों को अपनाने की अपील भी की है।

इससे पहले तकनीकी दिग्गज श्याओमी ने भी राज्यों के अस्पतालों के लिए 1,000 से अधिक ऑक्सीजन संक्रेंद्रक की खरीद के लिए 3 करोड़ रुपये के दान की घोषणा की थी। कंपनी ने कोविड-19 योद्धाओं के लिए 1 करोड़ रुपये जुटाने के लिए गैर-लाभकारी संगठन गिवइंडिया के साथ भागीदारी की है।

न्यूज सत्रोत आईएएनएस

Post a Comment

From around the web