दुनिया के सबसे बड़े कब्रिस्तान का क्या है राज, यह कैसे बना

 
s

लाइफस्टाइल डेस्क, जयपुर।। दुनिया के हर देश में आपको कब्रिस्तान देखने को मिल जाएंगे। लेकिन आज हम आपको बताने जा रहे हैं दुनिया के सबसे बड़े कब्रिस्तान के बारे में। इस कब्रिस्तान में 50 लाख से भी ज्यादा शव दफन है। इराक के नजफ शहर में स्थित इस कब्रिस्तान को पीस वैली के नाम से भी जाना जाता है।
रोज दफनाए जाते हैं 200 शव

इराक हमेशा से ही आतंकियों का केंद्र रहा है, यहां पर इतने ज्यादा आतंकी हमले होते हैं कि हर रोज लगभग 200 से ज्यादा मुर्दों को दफनाया जाता है। इस कब्रिस्तान में अभी तक 50 लाख शिया मुस्लिमों के शव दफनाए जा चुके हैं। आइएसआइएस से पहले यहां हर साल 80 से 120 लोगों को दफनाया जाता था। लेकिन, अब रोज 150 से 200 लोगों को दफनाया जाता है। खास बात ये है कि ये कब्रिस्तान केवल इराक के लोगों के लिए ही नहीं है।


आइएसआइएस का आतंक बढऩे के बाद यहां रोज होने वाली मौतों की संख्या दोगुनी हो गई है। ये कब्रिस्तान इतना फेमस और विशालकाय हो गया है कि हर साल लाखों लोग सिर्फ इस कब्रिस्तान को ही देखने आते हैं। इस कब्रिस्तान में मकबरा भी बना हुआ है। आइएसआइएस से मुकाबला होने से पहले लड़ाके यहां जरूर आते हैं। ये लोग मन्नत मांगते हैं कि अगर जंग में उनकी मौत हो जाए तो उन्हें यहीं दफनाया जाए। दुनियाभर के शिया अपनों को दफनाने के लिए यही जगह पसंद करते हैं। इन कब्रों को ईंटों, प्लास्टर और कैलिग्राफी से सजाया जाता है। कुछ कब्रों से उसमें दफन शख्स की हैसियत का भी पता चलता है।

Post a Comment

From around the web