पत्नी को कंधे पर उठाकर कोयले पर क्यों चलते है लोग, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

 
s

लाइफस्टाइल डेस्क, जयपुर।।  चीन की कई अजीबोगरीब परंपराओं के बारे में शायद आपको पता हो, जैसे यूलिन का डॉग मीट फेस्टिवल  उनमें से एक है. ऐसे ही चाइना  में एक और परंपरा है, जो कि उन जोड़ियों के लिए होती है जो मां-बाप बनने वाले होती हैं. हांलाकि, हर जगह गर्भवती महिलाओं को लेकर अलग-अलग तरह की परंपराएं होती हैं. यह रीति-रिवाज मां बनने वाली महिलाओं के भले के लिए भी होते हैं लेकिन इसी से जुड़ी चीन की एक परंपरा के बारे में जान कर शायद आप हैरान रह जाएंगे.

दरअसल, चीनी संस्कृति  में एक रिवाज है जिसमें पति अपनी गर्भवती पत्नी को उठा कर जलते कोयले पर चलते हैं. जानकारी के मुताबिक अगर होने वाले पिता, बच्चे की होने वाली मां को धधकते कोयले पर सफलतापूर्वक उठा कर उस तय क्षेत्र को पार कर लेता है तो यह माना जाता है कि मां सहजता के साथ और कम दर्द महसूस किए बच्चे को जन्म देगी यानि लेबर पेन  कम होगा. आपको यह जानकर हैरानी होगी कि पुरुष इस झुलसा देने वाली रस्म को इसलिए पूरा करते हैं क्योंकि गर्भावस्था के दौरान बच्चे की मां के शरीर में 9 महीने के ऐसे हार्मोन्स निकलते हैं, जिनकी वजह से महिला को मूड  स्विंग्स समेत अन्य समस्याओं का सामना करना पड़ता है, साथ ही उन्हें दर्द भी होता है, तो यहां पुरुषों का मानना है कि उनकी पिता बनने की जर्नी भी आसान नहीं होनी चाहिए.

आपको बता दें कि यह प्रथा यह कई लोगों के लिए एक टैबू  से कम नहीं है क्योंकि उनका मानना है कि कोयले पर चलने से उनके और उनकी गर्भवती पत्नी के लिए कुछ भी आसान नहीं होगा. कई लोग इसे मां और बच्चे के लिए रिस्कीभी बताते हैं क्योंकि अगर चलते वक्त पति का संतुलन बिगड़ गया तो दुर्घटना भी हो सकती है. हालांकि, वहां बहुत सारे लोगों का यह भी कहना है कि यह एक बहुत ही अनोखी और आध्यात्मिक  प्रथा है जो दर्शाती है कि पिता किस तरह दर्द में अपने होने वाले बच्चे की मां का साथ देने के लिए तैयार हैं. उनका मानना ​​​​है कि यह परंपरा यह दर्शाती है कि एक पिता के मन में अपने बच्चे और पत्नी के लिए कितना प्यार है. वहीं कई लोंगो का कहना है कि यह परंपरा महिलाओं को सम्मानित करने का एक जरिया भी है.

Post a Comment

From around the web