Follow us

चीन-ताजिकिस्तान मानविकी आदान-प्रदान गतिविधियां दुशांबे में आयोजित

 
चीन-ताजिकिस्तान मानविकी आदान-प्रदान गतिविधियां दुशांबे में आयोजित

बीजिंग, 6 जुलाई (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की ताजिकिस्तान की राजकीय यात्रा के दौरान 5 जुलाई को चाइना मीडिया ग्रुप (सीएमजी) द्वारा चीन-ताजिकिस्तान मानविकी आदान-प्रदान कार्यक्रम दुशांबे में आयोजित किया गया। साथ ही, चीन और ताजिकिस्तान के बीच "चीन को एक साथ देखना" संयुक्त मीडिया साक्षात्कार गतिविधि शुरू की गई।

सीएमजी के महानिदेशक शन हाईश्योंग ने इस मौके पर कहा कि कुछ समय पहले, सीएमजी द्वारा बनाए गए उच्च गुणवत्ता वाली फिल्म और टेलीविजन कार्यक्रमों की एक श्रृंखला ताजिकिस्तान में प्रदर्शित की गई थी, जिससे ताजिकिस्तान के दोस्तों के लिए मानविकी आदान-प्रदान की खिड़की खुल गई और दोनों देशों के लोगों के लिए नई सांस्कृतिक स्मृति बन गई।

शन हाईश्योंग के अनुसार, चाइना मीडिया ग्रुप के अधीनस्थ सीजीटीएन ताजिकिस्तान के मुख्यधारा मीडिया के पत्रकारों को चीन के विभिन्न स्थानों का दौरा करने के लिए भी आमंत्रित करेगा, जिससे दोनों देशों के लोगों के बीच आपसी समझ, आदान-प्रदान और भावना को मजबूत किया जाएगा। सीएमजी ताजिकिस्तान के विभिन्न जगतों के मित्रों के साथ मिलकर मानविकी आदान-प्रदान को मजबूत करना, सभ्यताओं के बीच आपसी सीख को गहराना चाहता है।

वहीं, ताजिकिस्तान की संस्कृति मंत्री मतलुबाहन सत्तोरियन ने कहा कि ताजिकिस्तान और चीन के बीच मानविकी आदान-प्रदान, विशेष रूप से मीडिया के बीच सहयोग ने दोनों देशों के बीच दोस्ती और आपसी विश्वास को बढ़ाने तथा लोगों से लोगों के बीच संबंधों को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। विश्वास है कि यह आयोजन अच्छे पड़ोसी और दोस्ती की परंपरा को जारी रखेगा और आपसी समझ व विश्वास को बढ़ाएगा।

उधर, शांगहाई सहयोग संगठन के पूर्व महासचिव रशीद अलीमोव ने कहा कि ताजिकिस्तान और चीन के बीच क्रॉस-सांस्कृतिक आदान-प्रदान सिल्क रोड पर शुरू हुआ और 2,000 से अधिक वर्षों तक चला। चाइना मीडिया ग्रुप द्वारा आयोजित मौजूदा मानविकी आदान-प्रदान कार्यक्रम का दूरगामी महत्व है, जिससे सांस्कृतिक स्तर पर दोनों देशों के बीच आपसी समझ को बढ़ावा देने और लोगों से लोगों के बीच संपर्क को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी। उन्हें उम्मीद है कि दोनों देशों की मीडिया ताजिकिस्तान-चीन संबंधों के अधिक विकास को बढ़ावा देने के लिए घनिष्ठ सहयोग बनाए रखेगी।

कार्यक्रम के दौरान, ताजिकिस्तान के राष्ट्रीय संगीत कॉलेज के शिक्षकों और छात्रों ने दोनों देशों के वाद्ययंत्रों के माध्यम से "दोस्ती" और "सिल्क रोड सिम्फनी" नामक धुनें बजायीं।

उस दिन, "चीन को एक साथ देखना" नाम के चीन-ताजिकिस्तान संयुक्त मीडिया साक्षात्कार गतिविधि शुरू की गई। गतिविधि के दौरान, ताजिकिस्तान की मुख्यधारा मीडिया के रिपोर्टर चीन में शहरों, गांवों, पहाड़ों और नदियों की यात्रा करेंगे, शूटिंग करेंगे और शौध करेंगे। उद्देश्य है कि चीनी सभ्यता के लंबे इतिहास को समझें, नए युग में चीन के आकर्षण को महसूस करें और ताजिक दर्शकों की चीन के साथ समझ और दोस्ती को बढ़ाएं।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

--आईएएनएस

एसकेपी/

Tags

From around the web