Follow us

बीआरएस के नेताओं को कांग्रेस में शामिल करने से जनता को कोई फर्क नहीं पड़ता : माधवी लता

 
बीआरएस के नेताओं को कांग्रेस में शामिल करने से जनता को कोई फर्क नहीं पड़ता : माधवी लता

नई दिल्ली, 5 जुलाई (आईएएनएस)। भाजपा नेता माधवी लता ने विपक्ष के नेता राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला। बीआरएस के एमएलसी के कांग्रेस ज्वाइन करने पर उन्होंने अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी।

माधवी लता ने कहा, ''राहुल गांधी के पुरखों ने तोड़-मोड़ कर इस देश में हलचल मचा दी। इंदिरा गांधी ने इमरजेंसी लगाई और संजय गांधी ने सिर्फ हिंदुओं की फैमिली प्लानिंग के लिए योजना निकाली। इसके बाद राजीव गांधी बोफोर्स लेकर आ गए। इस प्रकार से जितने भी मुद्दे आप निकलेंगे, ये लोग कुछ भी कर सकते हैं। फिर यह बाद में सभी को सबक सिखाने वाली बात करते हैं।"

लोकसभा चुनाव में भाजपा के 400 पार वाले नारे को इन्होंने संविधान बदलने जैसी झूठ बात से जोड़ा।

उन्होंने कहा, कांग्रेस इस तरह से लोगों को अपनी तरफ खींचने की कोशिश कर रही है। जीते हुए एमएलए, एमपी को ये लोग अपनी पार्टी में शामिल कर रहे हैं। इससे देश की जनता को कोई फर्क नहीं पड़ेगा। जब कांग्रेस के नेता पार्टी छोड़कर बीजेपी ज्वॉइन कर रहे थे, तब कांग्रेस वाले कह रहे थे कि बीजेपी ऑपरेशन लोटस चला रही है। जनता भाजपा के साथ है और आगे भी रहेगी। इस बात को कोई भी नहीं बदल पाएगा।

राहुल गांधी के हिंदुत्व वाले बयान पर माधवी लता ने पलटवार किया। उन्होंने कहा, भगवान को गाली देना यही इनका काम है। ये लोग सिर्फ चुनाव के दौरान मंदिर जाते हैं। राहुल गांधी अमेरिका के एग्जामिनेशन के बारे में चंद लोगों के साथ बैठकर बात करते हैं। उन चंद लोगों को मुंडी हिलाने के अलावा कुछ पता नहीं होता। राहुल गांधी ऐसे लोगों को इकट्ठा कर जो मन में आता है वो बोलते हैं। ऐसा ही झूठ उन्होंने संसद में हिंदू धर्म पर बोला।

--आईएएनएस

एसएम/एसकेपी

Tags

From around the web