बच्चा हो रहा है बड़ा तो पैरेंट्स जरुर रखे इन बातो का ध्यान, उसे सिखाएं ये बातें

 
बच्चा हो रहा है बड़ा तो पैरेंट्स जरुर रखे इन बातो का ध्यान, उसे सिखाएं ये बातें

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। माता-पिता बनना उतना ही खूबसूरत सपना है जितना कि जिम्मेदारियों से भरा सफर। माता-पिता के लिए बच्चे की परवरिश करना बहुत मुश्किल काम होता है। खासकर आज की व्यस्त जीवन शैली के कारण बच्चों और बाहर के काम के बीच संतुलन बनाना बहुत मुश्किल हो गया है। यदि माता-पिता अपने बच्चों को समय नहीं दे पाते हैं, तो वे और अधिक दुष्ट हो जाते हैं। जैसे-जैसे बच्चे बड़े होते हैं, वे अपने माता-पिता से दूर हो जाते हैं। अगर आपका बच्चा भी 10 साल का है तो उसे ये बातें जरूर सिखाएं। अच्छे संस्कार, उचित पालन-पोषण और इस उम्र में सीखी गई अच्छी शिक्षा जीवन भर काम आती है। तो आइए हम आपको बताते हैं कि इस उम्र के बाद आपको बच्चों को कौन सी चीजें सिखानी चाहिए...

अपने बच्चे को सकारात्मक रहना सिखाएं
बदलते समय और तकनीक के विकास से यह काम आसान हो गया है, लेकिन बच्चों में नकारात्मकता भी कई तरह से बढ़ रही है। बच्चों को नेगेटिविटी से बचाने के लिए 10 साल बाद आप उन्हें पॉजिटिव बातें बताना शुरू करें। अगर बच्चे पॉजिटिव रहेंगे तो उनके दिमाग में पाए जाने वाले सेल्स और न्यूरॉन भी पॉजिटिव तरीके से काम करेंगे। इसलिए माता-पिता को शुरू से ही अपने बच्चों को सकारात्मक गुणों के प्रति जागरूक करना चाहिए।

बच्चों के शरीर के अंगों के बारे में जानें
भले ही समय बदल रहा हो, लेकिन आज भी कई लोग समाज के कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात करने से बचते हैं। कुछ महत्वपूर्ण बिंदुओं को अक्सर अनदेखा कर दिया जाता है। लेकिन आपको बच्चे को आज के दौर के हिसाब से तैयार करना चाहिए। अगर आपका बच्चा 10 साल से ज्यादा का है तो उसे गुड एंड बैड टच के बारे में जरूर बताएं। शरीर के अंगों के बारे में बताएं।

बच्चे को सबका सम्मान करना सिखाएं
बड़े होते हुए बच्चों को यह भी बताना चाहिए कि सभी मनुष्य समान हैं। कभी भी किसी के बीच भेदभाव न करें। यदि बच्चे सभी का सम्मान करें तो इन गुणों से उनमें एक सकारात्मक व्यक्तित्व का विकास होगा। इससे यह सुनिश्चित होगा कि भविष्य में बच्चों का व्यक्तित्व हमेशा अच्छा रहेगा।

बच्चों को स्वच्छता के बारे में सिखाएं
अपने बच्चों को इस उम्र के बाद अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखने के लिए कहें। उन्हें बताएं कि शरीर को स्वस्थ और फिट रखने के लिए स्वच्छता कितनी जरूरी है। साथ ही बच्चों को शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत और स्वस्थ रखने के लिए व्यक्तिगत स्वच्छता के बारे में भी सिखाएं।

माता-पिता बच्चों के लिए आदर्श बनें
बच्चे अक्सर अपने माता-पिता को देखकर चीजें सीखते हैं। इसलिए माता-पिता को बच्चों के लिए रोल मॉडल बनना चाहिए। बच्चे अपने माता-पिता के व्यवहार को देखकर ही सब कुछ सीखते हैं। इसलिए अपना व्यवहार हमेशा ऐसा रखें कि बच्चे आपको देखकर ही अच्छी बातें सीखें।

Post a Comment

From around the web