करीना को शादी से लेकर शाहिद का एमएमएस तक किसी से नहीं पड़ता कोई फर्क, बोली - ये सब बकवास बाते है

 
करीना को शादी से लेकर शाहिद का एमएमएस तक किसी से नहीं पड़ता कोई फर्क, बोली - ये सब बकवास बाते है

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। नवाब सैफ की बेगम करीना एक बार फिर चर्चा में हैं लेकिन इस बार वह जिस वजह से सुर्खियों में हैं, वह उनका फैशन नहीं, उनका रवैया बल्कि उनकी नींद है। जी दरअसल कुछ दिन पहले लाल सिंह चड्ढा की स्क्रीनिंग से एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसमें करीना कपूर सोती नजर आ रही हैं और लोग उन्हें खूब ट्रोल कर रहे हैं. कहा जा रहा है कि पूरी टीम स्क्रीनिंग पर पहुंची जहां आमिर खान अपनी पूर्व पत्नी किरण राव के साथ बैठे थे और बाईं ओर करीना अपनी बांह पर सिर रखकर आराम से सो रही थीं। यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करते हुए कहा कि करीना बोर लग रही हैं- उन्हें लाल सिंह चड्ढा पसंद नहीं है। हालांकि यह पहली बार नहीं है, बेबो इससे पहले भी कई बार ट्रोल और विवादों का शिकार हो चुकी हैं। कभी लोगों को उनका यह बयान पसंद नहीं आया तो कभी गुस्से में बेबो ने एक्ट्रेस को थप्पड़ जड़ दिया. आइए आपको बताते हैं उनकी शादी से लेकर शाहिद के एमएमएस तक के विवाद।

शाहिद के साथ एमएमएस लीक विवाद
ये तो सभी जानते हैं कि करीना सैफानी बेगम बनने से पहले शाहिद को डेट करती थीं। दोनों की लव लाइफ को लेकर काफी चर्चाएं हुई थीं। कहा जाता है कि करीना भी शाहिद के लिए शाकाहारी बन गईं, लेकिन एक एमएमएस ने दोनों की छवि खराब कर दी। वायरल हुए 20 सेकेंड के एमएमएस में उन्हें शाहिद-कारी के साथ लिप लॉक करते देखा गया था।

सैफ से शादी का विवाद
करीना की शादी को लेकर भी बड़ा विवाद हुआ था। दरअसल करीना-सैफ की शादी को लव जिहाद एंगल दिया गया था। जब विवाद बढ़ा तो सैफ को खुद समझाने के लिए आगे आना पड़ा। उन्होंने साफ किया कि करीना ने उनसे शादी करने के लिए इस्लाम कबूल नहीं किया था, जिसके बाद मामला सुलझ गया था।

तैमूर और जाहू को लेकर विवाद
करीना के बेटों के नाम को लेकर भी विवाद हुआ था। दरअसल, जब उन्होंने अपने पहले बेटे का नाम तैमूर अली रखा तो उस वक्त काफी हलचल मच गई थी। नेटिज़न्स ने तैमूर का नाम 'तैमूर' नाम के एक बर्बर तुर्क आक्रमणकारी के साथ जोड़ा। वी द वुमन के ऑनलाइन सेशन में भी करीना ने इस बारे में खुलकर बात की। इस पर उन्होंने कहा, 'तैमूर के नाम का विवाद वाकई डरावना था। मैं उसे कभी नहीं भूलूंगा। एक माँ के रूप में, एक पुरुष के रूप में, मेरे बच्चे का नाम क्या होगा? मुझे उससे क्या कहना चाहिए? फैसला पूरी तरह मेरा होगा। इस पर किसी और का कोई अधिकार नहीं है और न ही उन्हें इससे कोई लेना-देना है।'

करीना ने एक वाकया भी शेयर किया और कहा, 'डिलीवरी के तुरंत बाद एक मशहूर शख्स उनसे और उनके बच्चे से मिलने अस्पताल आया और नाम के बारे में सवाल पूछने लगा। उन्होंने कहा कि तुम्हें क्या हुआ? आप अपने बेटे का नाम तैमूर क्यों रखेंगे? मेरे बच्चे को जन्म दिए अभी आठ घंटे भी नहीं हुए थे। मैं उस व्यक्ति की बात सुनकर रोने लगा और मैंने तुरंत उसे जाने के लिए कहा। यह तो बस इन सब की शुरुआत थी। उसी समय मैंने निश्चय किया कि यह मेरा पुत्र है। मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता कि कोई क्या कहता है। मैं नहीं जानना चाहता कि लोग क्या ट्रोल कर रहे हैं और क्या हो रहा है।

इसके बाद उन्होंने अपने दूसरे बेटे का नाम 17वें मुगल बादशाह जहांगीर के नाम पर रखा। जिसके बाद नाम विवाद फिर से शुरू हो गया, हालांकि बाद में जहांगीर का नाम बदलकर जेह कर दिया गया, लेकिन माता-पिता होने के नाते करीना और सैफ को अपने बच्चे का नाम अपनी इच्छानुसार रखने का पूरा अधिकार है।

सार्वजनिक रूप से बिपाशा बसु को 'काली बिल्ली' कहा जाता है।
करीना और बिपाशा बसु के बीच 'कैट फाइट' तो आपको याद ही होगी। इस बीच करीना ने सार्वजनिक रूप से बिपाशा बसु को 'काली बिल्ली' कहा। उस समय करीना 3 इडियट्स की शूटिंग कर रही थीं और उनके डिजाइनर विक्रम थे और उन्होंने 3 करीना की सहमति के बिना बिपाशा बसु की मदद करने का फैसला किया। बस इसी बात से करीना का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया और उन्होंने गुस्से में बसु को काली बिल्ली कहकर थप्पड़ मार दिया। इस बारे में बात करते हुए करीना ने कहा कि वह करीना के साथ कभी काम नहीं करेंगी।

फिल्म फीस को लेकर विवाद
वह फीस को लेकर भी विवादों का शिकार हो चुकी हैं, दरअसल उन्हें पहले सीता फिल्म में मुख्य भूमिका के लिए चुना गया था, लेकिन करीना ने इस भूमिका के लिए अपनी फीस दोगुनी कर दी। उन्होंने फिल्म में अभिनय करने के लिए 12 करोड़ रुपये की मांग की। फैंस इस मांग से खुश नहीं थे, इसलिए उन्हें ट्रोल कर बाहर कर दिया गया, जिसके बाद करीना की जगह कंगना रनौत को साइन कर लिया गया।

 फिल्म के पोस्टर को लेकर हुआ विवाद
करीना की एक फिल्म के एक पोस्टर ने राजनीतिक विवाद भी खड़ा कर दिया था। फिल्म कुर्बान ने उन्हें और सैफ को मुख्य भूमिकाओं में दिखाया, लेकिन इसके पोस्टर में करीना पूरी तरह से बैकलेस दिखीं, जिसके बाद महाराष्ट्र के एक राजनीतिक दल शिवसेना ने फिल्म के पोस्टर पर आपत्ति जताई। पोस्टर जला दिया गया और लोगों ने प्रतिबंध लगाने की मांग की।

खैर, इन विवादों से करीना को कोई फर्क नहीं पड़ा और वह अपने काम पर आगे बढ़ गईं क्योंकि उन्हें लगता है कि यह ट्रोलर्स का काम है।

Post a Comment

From around the web