बरसात के मौसम में  फॉरेस्ट ट्रैकिंग काआनंद उठाने के लिए इन जगहों पर जरुर जाये 

 
टॅख़ूईङ

ट्रैकिंग का प्रचलन दुनियाभर में है। खासकर बरसात के दिनों में पर्यटक ट्रैकिंग पर जाना ज्यादा पसंद करते हैं। वैसे पर्यटकों की पसंद में असमानता है। कुछ पर्यटक हिल स्टेशन पर ट्रैकिंग के लिए जाते हैं, तो कुछ फॉरेस्ट ट्रैकिंग पर जाना पसंद करते हैं। अगर आप भी प्रकृति से प्यार करते हैं, तो बरसात के दिनों में ट्रैकिंग के लिए इन जगहों पर जरूर जाएं। हालांकि, यात्रा के दौरान कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करें। इससे आप संक्रमण का खतरा कम रहता है। अरुणाचल प्रदेश में कई खूबसूरत जंगल हैं। हाल के दिनों में ट्रैकिंग के लिए ये जंगल दुनियाभर में पॉपुलर हुआ है। टैली घाटी जंगल में आप विभिन्न प्रकार के पशु और पक्षी को देख सकते हैं। साथ ही ऊंचे-ऊंचे पेड़ वन की शोभा को और बढ़ा देते हैं। ट्रैकिंग के लिए आप टैली घाटी जा सकते हैं।कान्हा नेशनल पार्क देशभर में पॉपुलर है। यहां 22 प्रकार की स्तनधारी जीव पाए जाते हैं। 

फारेस्ट

महाराष्ट्र का यह सबसे पुराना राष्ट्रीय पार्क है। इस पार्क में कई प्रकार के वन्य जीव देखने को मिल जाते हैं। खासकर आप बाघ का भी दीदार कर सकते हैं। ताडोबा को बंबू जंगल कहा जाता है। मानसून के दिनों में ट्रैकिंग के लिए सबसे परफेक्ट डेस्टिनेशन है। इस मौसम में वातावरण बेहद आनंददायक रहता है।कर्नाटक के वेस्टर्न घाट में दांदेली स्थित है। यह शहर काली नदी के किनारे बसा हुआ है। जहां, पर्यटक वॉटर राफ्टिंग और कॉयकिंग का आनंद उठाते हैं। नदी के किनारे ढे़र सारी दुर्लभ पक्षियों को भी आप देख सकते हैं। दांदेली के किनार वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में आप सफारी का भी मजा उठा सकते हैं। 

Post a Comment

From around the web