Rekha ने खोला अपनी जिंदगी का खास राज, कहा की मुझे तो मार-मार के एक्ट्रेस बनाया गया

 
रेखा ने खोला अपनी जिंदगी का खास राज, कहा की मुझे तो मार-मार के एक्ट्रेस बनाया गया

बॉलीवुड इंडस्ट्री में रेखा एक ऐसी एक्ट्रेस है जो अपने करियर से शुरू से ही गॉसिप का विषय रही है। रेखा खुद कई बार कह चुकी है कि वो तो एक्ट्रेस बनना ही नहीं चाहती थी उन्हें तो मार-मार के एक्ट्रेस बनाया गया। आज के इस पैकेज में हम आपको रेखा की जिंदगी से जुड़ी बातें बताते है जिन्हें कम ही लोग जानते है। साल 1986 में रेखा ने एक इंटरव्यू दिया था जिसमें उन्होंने कई बातें कही थी। अपने बारे में बात करते हुए रेखा ने कहा था कि मेरे साथ तो ऐसे हुआ कि मैं ओवरनाइट स्टार बन गई थी। तो मेरे लिए ये थोड़ा आसान था। काफी सालों के बाद मुझे लगा कि सिर्फ स्टार बनना ही सबकुछ नहीं है, आर्टिस्ट भी बनना चाहिए।

जैसे कि सब जानते ही है कि रेखा की मां भी साउथ की पॉपुलर एक्ट्रेस थी पिता फेमस एक्टर। तो ऐसे में उनकी मां चाहती थी कि वो एक्ट्रेस बने। रेखा ने भी कहा था कि फैमिली के कहने पर फिल्मों में आई तो उन्होंने कहा उनकी मां ने उन्हें इंडस्ट्री में आने के लिए कहा। रेखा ने कहा था कि लोग बचपन से स्टार बनने के सपने देखते है लेकिन मुझे इंडस्ट्री में आने का कोई शौक नहीं था। मैं नहीं चाहती थी कि मैं एक्ट्रेस बनूं...मुझे तो मार-मार के एक्ट्रेस बनाया गया। 3 साल की उम्र में मैंने काम करना शुरू कर दिया था बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट मैंने साउथ इंडस्ट्री में एक्टिंग की। 13 साल की उम्र में मैंने बॉलीवुड में एंट्री की।
रेखा ने खोला अपनी जिंदगी का खास राज, कहा की मुझे तो मार-मार के एक्ट्रेस बनाया गया

रेखा बॉलीवुड में कैसे आई इसके बारे में बताते हुए एक्ट्रेस ने कहा था कि कुलजीत पाल और शत्रुजीत पाल एक्ट्रेस की तलाश करते हुए मद्रास आए थे। यहां किसी ने उन्हें मेरे बारे में बताया कि साउथ इंडियन लड़की है और थोड़ी बहुत हिंदी जानती है। इस पर दोनों मेरी मां से मिलने आए और मुझसे पूछा कि हिंदी आती है तो मैंने कहा नो। इसके बाद उन्होंने पूछा हिंदी फिल्मों में आप काम करना चाहती हैं तो मैंने कहा नो। मेरे ना बोलने के बावजूद उन्होंने कहा कि हम आपको अगले दिन आकर साइन कर लेते हैं। शायद यही मेरा भाग्य था...

रेखा ने कहा था कि मुझे एक्टिंग करनी पसंद नहीं थी मैं जबरदस्ती काम करती थी...एक फिल्म को करने के बाद रेखा को लगा कि उन्हें एक्टिंग में दिलचस्पी लेनी चाहिए और वो फिल्म घर थी। रेखा के मुताबिक, फिल्म घर करने के बाद उन्हें महसूस हुआ कि मुझे लगा कि एक्टिंग में दिलचस्पी लेनी चाहिए। जिस वक्त रेखा ने इंटरव्यू दिया था उस वक्त वो 400 फिल्में कर चुकी थी। जैसे कि हमने आपको बताया कि रेखा को लेकर गॉसिप सुनने को मिलते है तो इस बारे में बात करते हुए एक्ट्रेस ने कहा था कि  शुरू में मुझे  यह गॉसिप समझ नहीं आया... लोग पटाखे कहते थे। मैं जो कहती थी उसे मिर्च मसाला लगाकर दिखाते थे फिर मैंने बोलना बंद कर दिया। रेखा ने यह भी बताया था कि पहले उनके फिल्म की स्क्रिप्ट मां पढ़ती थी और वो ही डिसाइड करती थी कि वो कौन सी फिल्म करेगी लेकिन बाद में उन्होंने खुद स्किप्ट पढ़कर फिल्में साइन करना शुरू की।  अपने बारे में बात करते हुए रेखा ने कहा था कि मैं हर चीज बहुत जल्दी डिसाइड कर लेती हूं।

रेखा ने यह भी बताया कि उन्होंने कभी भी फिल्म साइन करने से पहले यह नहीं पूछा कि हीरो कौन है हां सुझाव जरूर देती थी कि कौन सा हीरो सूट करेगा। वही जब रेखा फिल्में कम करती थी तो योगा पर अधिक ध्यान देती थी। उनकी खूबसूरती और फिटनेस का राज योग को भी बताया जाता है। रेखा ने अपने बारे में बताते हुए कहा था कि उन्हें पेंटिंग और गाडर्निंग, इंटीरियर डेकोरेशन, कपड़े डिजाइन और मेकअप का काफी शौक है।

Post a Comment

From around the web