क्या आप जानते है ताजमहल के 22 बंद कमरों में छिपे कई अहम राज, जानिए क्या है इन बंद दरवाजों की कहानी

 
क्या आप जानते है ताजमहल के 22 बंद कमरों में छिपे कई अहम राज, जानिए क्या है इन बंद दरवाजों की कहानी

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। भारत में ऐसे मंदिरों या मस्जिदों को लेकर कई सवाल हैं। ताजमहल को लेकर अब एक नया मामला सामने आया है। लंबे समय से एक पक्ष इसे हिंदुओं का मंदिर बता रहा है, कोई इसे शिव मंदिर बता रहा है तो कोई इसे तेजो महालय बता रहा है. याचिका में कहा गया है कि ताजमहल में मौजूद 22 कमरों को खोलने की मांग की गई है। इससे यह पता चल सकता है कि इनके अंदर किसी देवता की कोई मूर्ति या शिलालेख है या नहीं। आइए आपको ताजमहल के इस बंद कमरे के बारे में कुछ रोचक तथ्य बताते हैं।

ताजमहल के इन कमरों को 1934 में खोला गया था
ताजमहल के ये 22 कई दशकों से बंद हैं। इतिहासकारों के अनुसार मुख्य मकबरे और चमेली के तल के नीचे 22 कमरे हैं, जो अभी भी बंद हैं। ये कमरे मुगल काल से बंद हैं। इन कमरों को आखिरी बार 1934 में खोला गया था। इस दौरान उन्हें सिर्फ निरीक्षण के लिए खोला गया। इसके बाद वे रुक गए। ताजमहल के फर्श पर यमुना की ओर दो सीढि़यां हैं, जिस पर लोहे की जाली रखी गई है।

क्या आप जानते है ताजमहल के 22 बंद कमरों में छिपे कई अहम राज, जानिए क्या है इन बंद दरवाजों की कहानी

पहली मंजिल पर बंद कमरा

ताजमहल की संगमरमर की संरचना की पहली मंजिल पर कमरे हैं। ऊपर जाने वाली 2 सीडी शाहजहाँ के समय से बंद हैं। इस कमरे के फर्श और संगमरमर की दीवारों को ऊपर देखा जा सकता है।

सिद्धांतवादी क्या कहते हैं
कई सिद्धांतकार हैं जो कहते हैं कि ताजमहल के तहखाने में कमरे संगमरमर से बने हैं। ऐसा कहा जाता है कि अगर तहखाने में कार्बन डाइऑक्साइड की मात्रा बढ़ जाती है, तो इसे कैल्शियम कार्बोनेट में बदला जा सकता है। कार्बन डाइऑक्साइड संगमरमर को पाउडर करना शुरू कर देता है और इससे दीवारों को नुकसान पहुंचता है। ताजमहल की दीवारों को नुकसान से बचाने के लिए बेसमेंट को बंद कर दिया गया है।

क्या आप जानते है ताजमहल के 22 बंद कमरों में छिपे कई अहम राज, जानिए क्या है इन बंद दरवाजों की कहानी

कैसे पहुंचे ताजमहल
हवाई मार्ग से: ताजमहल, आगरा पहुंचने का सबसे तेज़ तरीका हवाई मार्ग है। ताज शहर, आगरा का अपना हवाई अड्डा है जो शहर से लगभग 7 किमी दूर है। भारतीय उड़ानें आगरा के लिए दैनिक उड़ानें संचालित करती हैं।

रेल द्वारा: आगरा को देश के बाकी हिस्सों से जोड़ने वाली ट्रेनों का एक अच्छा नेटवर्क है। आगरा में मुख्य रेलवे स्टेशन के अलावा, दो अन्य स्टेशन हैं, राजा-की-मंडी और आगरा का किला। आगरा से दिल्ली को जोड़ने वाली मुख्य ट्रेनें पैलेस ऑन व्हील्स, शताब्दी, राजधानी और ताज एक्सप्रेस हैं।

सड़क मार्ग से: आगरा से कई महत्वपूर्ण शहरों के लिए नियमित बस सेवाएं हैं। मुख्य बस स्टैंड पर दिल्ली, जयपुर, मथुरा, फतेहपुर-सीकरी आदि से ताजमहल के लिए कई बसें चलती हैं।

Post a Comment

From around the web