मानसून के मौसम में भूलकर भी न जाएं महाराष्ट्र की इन 5 जगहों पर, वरना गंवानी पड सकती है...

 
मानसून के मौसम में भूलकर भी न जाएं महाराष्ट्र की इन 5 जगहों पर, वरना गंवानी पड सकती है...

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। बरसात के मौसम में सभी का कहीं न कहीं घूमने का प्लान होता है। सुहावने मौसम का आनंद लेने के लिए यह मौसम सबसे अच्छा है, जो न ज्यादा ठंडा होता है और न ही ज्यादा गर्म। ऐसे में मानसून में बेहद यादगार यात्रा की योजना बनाई जा सकती है। इस मौसम में आकाश बहुत चमकीला और सुंदर दिखता है। महाराष्ट्र राज्य में मानसून आ गया है, इसलिए यदि आप आसपास के क्षेत्रों की यात्रा करने की योजना बना रहे हैं, तो मौसम पर विचार करना सुनिश्चित करें। महाराष्ट्र में कई ऐसी जगह हैं जहां बारिश के मौसम में सफर करना बेहद खतरनाक होता है। ऐसे में आपको बारिश के मौसम में इन जगहों पर जाने से बचना चाहिए। तो देर किस बात की आइए जानते हैं महाराष्ट्र की इन खतरनाक जगहों के बारे में-

तुंगेश्वर जलप्रपात

महाराष्ट्र में कई खूबसूरत झरने हैं। लेकिन तुंगेश्वर जलप्रपात थोड़ा खतरनाक है। आपको बता दें कि यह जलप्रपात समुद्र तल से 2,177 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यह ट्रेकर्स की पसंदीदा जगहों में से एक है। लेकिन बारिश में इस झरने का बहाव तेज होता है जिससे दुर्घटना होने का खतरा रहता है। ऐसे में आप मानसून में इस जगह पर जाने से बच सकते हैं।

देवकुंड जलप्रपात

यह झरना जितना खूबसूरत है, उतना ही खतरनाक भी है। आपको बता दें कि यह जलप्रपात मुंबई से 50 किलोमीटर दूर भीरा गांव में स्थित है। यात्री अक्सर मन की शांति देने के लिए यहां आते हैं। लेकिन भारी बारिश में झरनों का बहाव तेज रहता है, जिससे बारिश की संभावना बढ़ जाती है। ऐसे में आप मानसून के दिनों में इस जगह को छोड़ सकते हैं।

गणेश्वर बांध, पनवेली

यह खूबसूरत बांध पनवेल में स्थित खूबसूरत पहाड़ियों के पास बना है। बांध पर्यटकों के लिए एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है, लेकिन बांध बारिश के मौसम में पानी छोड़ता है, जिससे बांध ओवरफ्लो हो जाता है। इस कारण आपको यहां तैरने से बचना चाहिए।

प्रबलगढ़ किला, पनवेली

इस किले को कलावंती किले के नाम से भी जाना जाता है। समुद्र तल से 2300 फीट की ऊंचाई पर स्थित माथेरान और पनवेल के बीच बना यह खूबसूरत किला (भारत का खूबसूरत किला) है। ट्रेकिंग के लिए यह इन लोगों की पसंदीदा जगह है। लेकिन मानसून के दिनों में किले की चढ़ाई बेहद खतरनाक हो जाती है, जिसमें बिना रस्सियों के ट्रेकिंग करने से दुर्घटना का खतरा होता है। आप परिवार या बच्चों के साथ ऐसी जगह पर नहीं जा सकते।

Post a Comment

From around the web