भारत की इन जगहों पर बच्चों के साथ उठाएं ‘Toy Train’ का लें पुरा मजा, खूबसूरत वादियों के साथ रोमांच का भी ले मजा

 
भारत की इन जगहों पर बच्चों के साथ उठाएं ‘Toy Train’ का लें पुरा मजा, खूबसूरत वादियों के साथ रोमांच का भी ले मजा

ट्रेवल न्यूज डेस्क।। यदि आप आसानी से दर्शनीय स्थलों का आनंद लेना चाहते हैं, तो इसे अवश्य देखें। इस दौरे के दौरान आपको खूबसूरत घाटियां, घने जंगल और पतली सुरंगों से गुजरते पहाड़ दिखाई देंगे। टॉय ट्रेन यात्रा बच्चों के साथ-साथ वयस्कों को भी आकर्षित करती है। ऐसी टॉय ट्रेन में सफर करने के लिए बच्चे सबसे ज्यादा उत्साहित होते हैं। अगर आप परिवार के साथ यात्रा करने की सोच रहे हैं, तो कहीं और जाने के बजाय परिवार के साथ भारत की इन अद्भुत टॉय ट्रेनों का आनंद लें।

कालका-शिमला, हिमाचल
यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल के रूप में सूचीबद्ध, कालका-शिमला भारत में चलने वाली बहुत कम टॉय ट्रेनों में से एक है। यह हरी-भरी पहाड़ियों से होकर गुजरता है और आसपास की सुंदरता के मनोरम दृश्य प्रस्तुत करता है। 96 किलोमीटर का कालका-शिमला मार्ग 103 सुरंगों और 850 से अधिक पुलों वाली रेल पटरियों से संकरा है। कालका-शिमला टॉय ट्रेन में लगभग 5.5 घंटे लगते हैं। ऐसा अनुभव आपको जीवन भर याद रहेगा।

भारत की इन जगहों पर बच्चों के साथ उठाएं ‘Toy Train’ का लें पुरा मजा, खूबसूरत वादियों के साथ रोमांच का भी ले मजा

कांगड़ा घाटी रेलवे, हिमाचल
कांगड़ा घाटी कांगड़ा घाटी रेलवे, भारत की दूसरी विरासत टॉय ट्रेन है। यह ट्रेन पठानकोट और जोगिंद्रनगर के बीच चलती है। विश्व धरोहर स्थलों की सूची में शामिल यह टॉय ट्रेन पालमपुर में तेज नहरों, कई पुलों और चाय बागानों से होकर गुजरती है। यहां से आप धौलाधार पर्वत श्रृंखला के कई खूबसूरत नजारे देख सकते हैं।

सड़क: पठानकोट जंक्शन-ज्वालामुखी रोड-कांगड़ा-नगरोटा-पालमपुर-बैजनाथ-जोगिंद्रनगर

सामान्य ट्रेन के लिए: रु। 35

कांगड़ा रानी के लिए: रु। 330 (प्रथम श्रेणी), रु। 310 (कुर्सी कार), रु. 190 (द्वितीय श्रेणी)

भारत की इन जगहों पर बच्चों के साथ उठाएं ‘Toy Train’ का लें पुरा मजा, खूबसूरत वादियों के साथ रोमांच का भी ले मजा
दार्जिलिंग हिमालयन रेलवे, पश्चिम बंगाल
अगर आप दार्जिलिंग हिमालयन टॉय ट्रेन में चढ़ते हैं, तो आपको कुछ बर्फ से ढके पहाड़, घुमावदार मोड़ और रोमांचकारी ढलान दिखाई देंगे। आश्चर्यजनक रूप से सुंदर दृश्य आपको विस्मित कर देंगे कि कोई इतनी अद्भुत जगह पर ट्रेन कैसे बना सकता है। ट्रेन से आप कंचनजंगा पीक और दार्जिलिंग शहर के शानदार नज़ारे देख सकते हैं।

सड़क: दार्जिलिंग - घूम - दार्जिलिंग

किराया : रु. 620 वन वे

यूकेलिप्टस माउंटेन रेलवे, तमिलनाडु
अगर आप यूकेलिप्टस माउंटेन ट्रेन में सफर कर रहे हैं तो यकीन मानिए आप याहाना की खूबसूरती के दीवाने हो जाएंगे। यूकेलिप्टस माउंटेन टॉय ट्रेन भारत की सबसे शानदार टॉय ट्रेनों में से एक है, जो घने जंगलों, चट्टानी इलाकों और धुंध वाली पहाड़ियों से होकर गुजरती है। इसके अलावा, यह भारत में यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल के रूप में सूचीबद्ध है।

मार्ग: मेट्टुपालयम - कल्लार - अदारली - कुन्नूर - वेलिंगटन - केटी - ऊटी

किराया : रु. 500, दूसरी सीट के लिए रु। 250

भारत की इन जगहों पर बच्चों के साथ उठाएं ‘Toy Train’ का लें पुरा मजा, खूबसूरत वादियों के साथ रोमांच का भी ले मजा

माथेरान हिल रेलवे, महाराष्ट्र

नेरल से माथेरान तक चलने वाली माथेरान हिल रेलवे महाराष्ट्र में लगभग एक सदी पुरानी रेल सेवा है। यह भारत की सबसे लोकप्रिय टॉय ट्रेनों में से एक है जो अपनी 'वन किस टनल' के लिए जानी जाती है। यह टॉय ट्रेन लोगों को कई प्राकृतिक नजारे भी देती है।

सड़क: माथेरान - अमन लॉज - नेरालु

किराया : रु. 300 और बच्चों के लिए रु। 180

Post a Comment

From around the web