दिल्ली में है भगवन श्री कृष्ण का सदियों पुराना इस्कॉन मंदिर, जानिए इसका इतिहास और रोचक कहानी

 
दिल्ली में है भगवन श्री कृष्ण का सदियों पुराना इस्कॉन मंदिर, जानिए इसका इतिहास और रोचक कहानी

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। जन्माष्टमी नजदीक आ रही है, इसलिए दिल्ली के इस्कॉन मंदिर की यात्रा परिवार के साथ एक शानदार यात्रा हो सकती है। खूबसूरत कलाकृतियां और नक्काशी इस मंदिर को खास बनाती है। वर्ष 1998 में बना यह मंदिर नई दिल्ली के संत नगर में स्थित है। दिल्ली का यह प्रसिद्ध मंदिर इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शियसनेस द्वारा बनाया गया है। पूरी दुनिया में अलग-अलग जगहों पर इस्कॉन मंदिर बनाए गए हैं। दिल्ली में स्थित इस मंदिर को श्री श्री राधा पार्थसारथी मंदिर और हरे राम हरे कृष्ण मंदिर के नाम से भी जाना जाता है।

राधा-कृष्ण मंदिर के साथ-साथ राम सीता मंदिर भी हैं। प्रत्येक मंदिर की ऊंचाई करीब 90 फीट है। यह एक आधुनिक मंदिर है जिसमें मोज़ाइक का उपयोग करके कृष्ण के जीवन की विभिन्न लीलाओं को दिखाया गया है। इसके साथ ही इन मंदिरों में स्थापत्य की छाप भी देखने को मिलती है। आइए जानते हैं इस्कॉन मंदिर और इसकी यात्रा के बारे में पूरी जानकारी।

मंदिर के प्रमुख आकर्षण
इस्कॉन मंदिर में वैदिक संस्कृति संग्रहालय, वैदिक कला भवन, रामायण आर्ट गैलरी, रोबोट शो आरती जैसी अनूठी चीजें भी हैं। संग्रहालय में राधा कृष्ण और महाभारत, रामायण से संबंधित कई ऐतिहासिक प्रस्तुतियां हैं। रामायण को रामायण आर्ट गैलरी में मल्टीमीडिया, लाइट और साउंड इफेक्ट की मदद से दिखाया जाता है। रोबोट शो में मिट्टी के रोबोट हैं जो श्रीमद्भगवद गीता से संबंधित पाठ देते हैं।

मंदिर दर्शन का समय
मंदिर में सुबह, शाम और रात में अलग-अलग आरती की जाती है, जैसे मंगला आरती, दर्शन आरती, राज भोग आरती, उत्थापन आरती, संध्या आरती और शयन आरती। जन्माष्टमी के दौरान यहां बड़े उत्सवों का आयोजन किया जाता है जिसमें दूर-दूर से लोग दर्शन करने आते हैं।

कैसे और कब पहुंचें
दिल्ली में यहां पहुंचने के लिए मेट्रो आसानी से उपलब्ध है। बाहर से आने वाले लोगों के लिए रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और हवाई अड्डा भी पास में ही हैं। उसके बाद आप स्थानीय वाहनों से यहां आसानी से पहुंच सकते हैं। समय-समय पर यहां विभिन्न उत्सवों का भी आयोजन किया जाता है। इसे बिना किसी प्रवेश शुल्क के पूरे वर्ष में कभी भी देखा जा सकता है।

Post a Comment

From around the web