ये हैं देश के 5 सबसे साफ सुथरे बीच, जहां लें नीला पानी, सूखी रेत और हरियाली के मजे

 
 ये हैं देश के 5 सबसे साफ सुथरे बीच, जहां लें नीला पानी, सूखी रेत और हरियाली के मजे

लाइफस्टाइल न्यूज डेस्क।। भारत पहले ऐसा देश है, जिसने दस समुद्र तटों के लिए 'ब्लू फ्लैग' सर्टिफिकेशन प्राप्त किया है। आपको बता दें, ब्लू फ्लैग प्रमाण एक इको-लेबल है जो दुनिया के सबसे स्वच्छ समुद्र तटों को प्रदान किया जाता है। अभी, 4573 से ज्यादा समुद्र तट, बोट्स और मरीन को दुनियाभर में ये सर्टिफिकेशन प्राप्त है और इस सूची में दस भारतीय समुद्र तट भी शामिल हैं। चलिए हम आपको उन 5 बीचेस के बारे में बताते हैं, जहां आप आसानी से पहुंच सकते हैं।

शिवराजपुर बीच, द्वारका, गुजरात
भारत में ब्लू फ्लैग वाले समुद्र तटों की सूची में शिवराजपुर बीच, गुजरात भी आता है। द्वारका के रुक्मणी मंदिर के उत्तर में 15 मिनट की दूरी पर स्थित यह समुद्र तट पक्षियों और समुद्री जीवन को देखने के लिए शानदार है।

कप्पड बीच, केरल
केरल में कप्पड़ समुद्र तट भारतीय नीले झंडे वाले समुद्र तटों में से एक है। कोझिकोड से 16 किमी की दूरी पर स्थित, प्रकृति की खूबसूरती को देखने के लिए परफेक्ट स्थान है। आप यहां के बैकवॉटर का भी आनंद ले सकते हैं।

ये हैं देश के 5 सबसे साफ सुथरे बीच, जहां लें नीला पानी, सूखी रेत और हरियाली के मजे

गोल्डन बीच, पुरी, ओडिशा
पुरी, ओडिशा का गोल्डन बीच एशिया का पहला ब्लू फ्लैग प्रमाणित समुद्र तट है। यहां आपको प्लास्टिक मुक्त वातावरण, सोलर एनर्जी व्यवस्था और कई अन्य बेहतर सुविधाएं देखने को मिल जाएंगी।

राधानगर बीच, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह
राधानगर बीच 2004 में दुनिया के 7वें सर्वश्रेष्ठ समुद्र तट के रूप में सम्मानित किया गया था। साथ ही इसे 2004 में सर्वश्रेष्ठ एशियाई समुद्र तट के लिए भी मान्यता मिली हुई है। यहां आपको शॉवर और लॉकर रूम जैसी सुविधाएं मिल जाएंगी, साथ ही यहां कई शैक्स भी हैं, जहां आप आराम से कुछ वक्त शांति के गुजार सकते हैं।

घोघला बीच, दीव
दीव के घोघला बीच भारत के सर्वश्रेष्ठ ब्लू फ्लैग प्रमाणित समुद्र तटों में से एक है। यह आकर्षक समुद्र तट वाटर स्कूटर और पैरासेलिंग जैसी मजेदार गतिविधियों का केंद्र है। यहां कम पर्यटकों के आने की वजह से भी ये समुद्र तट साफ रहता है।

 

Post a Comment

From around the web